जीएसीसी में हुआ था लाखों का छात्रवृत्ति घोटाला, 5 कर्मचारियों के खिलाफ चालान पेश

Smart News Team, Last updated: 16/02/2021 07:21 PM IST
  • इंदौर में स्थित शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय (जीएसीसी) में 63 लाख की छात्रवृत्ति के घोटाले को लेकर 5 कर्मचारियों के खिलाफ चालान पेश किया गया. इससे पहले भी प्राचार्य व सहायक प्राध्यापक सहित पांच के खिलाफ चालान पेश किया जा चुका है.
जीएसीसी में हुआ था लाखों का छात्रवृत्ति घोटाला, 5 कर्मचारियों के खिलाफ चालान पेश (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंदौर में स्थित शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय (जीएसीसी) में करीब 63 लाख की छात्रवृत्ति का घोटाला सामने आया था. इस मामले में करीब 5 कर्मचारियों के खिलाफ चालान पेश किया गया. छात्रवृत्ति घोटाले से जुड़े इस मामले में पहले प्राचार्य व सहायक प्राध्यापक सहित पांच के खिलाफ चालान पेश किया जा चुका है. मामले को लेकर अनवेषण प्रकोष्ठ ने बीते सोमवार को चालान पेश किया. बताया जा रहा है कि मामले में कुछ कर्मचारियों के खिलाफ केस चलाने की अनुमति नहीं मिली थी, जिसकी वजह से उनका चालान पेश नहीं हो पाया था.

इस बारे में बात करते हुए एसपी धनंजय शाह ने बताया कि ओल्ड जीडीसी में पदस्थ सहायक ग्रेड-2 अनिल लाड़, संस्कृत कॉलेज में पदस्थ सहायक ग्रेड-3 योगेंद्र सिंह चौहान, निर्भय सिंह कॉलेज में पदस्थ सहायक ग्रेड-3 सुरेंद्र गोयल के खिलाफ चालान पेश किया गया है. इसके साथ ही इसी कॉलेज की लैब टेक्नीशियन कामिनी शिवहरे और आदिम जाति विभाग के जिला संयोजक एमके शर्मा के खिलाफ भी चालान पेश किया गया जा चुका है.

घर आए दोस्त ने बच्चे को दिया धक्का, गुस्साए पिता ने फावड़े से पीट-पीटकर की हत्या

बताया जा रहा है कि तत्कालीन प्राचार्य डॉ.आरके खरे, सहायक प्राध्यापक डॉ कुसुम लता श्रीवास्तव, लैब टेक्नीशियन नरेंद्र श्रीवास के खिलाफ पहले ही चालान पेश किया जा चुका है. कॉलेज में करीब 1 करोड़ 28 लाख, 32000 से ज्यादा रुपये की छात्रवृत्ति बांटी जानी थी. लेकिन आरोप लगाया गया है कि छात्रवृत्ति की कुल रकम में से करीब 63 लाख रुपए का गबन किया गया है, जिसे लेकर कार्रवाई की जा रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें