इंदौर क्राइम ब्रांच की कामयाबी, ऑनलाइन ठगी के शिकार लोगों को वापस दिलाए 3.40 लाख

Smart News Team, Last updated: 15/09/2020 10:32 AM IST
  • इंदौर. क्राइम ब्रांच ने नौकरी, गिफ्ट, कस्टमर केयर या लोन दिलाने के नाम पर ठगे गए लोगों के 3.40 लाख रुपये वापस दिलाए. पुलिस के मुताबिक या ठगी अधिकांश लोगों को यूपीआई लिंक भेजकर हुई थी. इन ठगों को अपने शिकंजे में फंसाए जाने के लिए पुलिस भी अपने भरसक प्रयास में जुटी हुई है.
प्रतीकात्मक तस्वीर

इंदौर| इंदौर में बढ़ रही ऑनलाइन ठगी की शिकायतों को संज्ञान में लेते हुए इंदौर की क्राइम ब्रांच ने अभियान चलाते हुए दर्जनों लोगों की कुल धनराशि 3.40 लाख रुपये की वापस दिलाई है. इसके अलावा उन्होंने सोशल मीडिया के 350 अकाउंट भी बंद कराए हैं. ठगी के शिकार लोगों को जब उनकी धनराशि वापस मिली तो उन्होंने क्राइम ब्रांच को सलाम किया.

बताते चलें कि यह सभी लोग ऑनलाइन ठग गिरोह के बदमाशों का शिकार हो गए थे. जिसमें नौकरी, गिफ्ट, कस्टमर केयर या लोन दिलाने के नाम पर ठगी की गई थी. अधिकांश लोगों से यूपीआई लिंक भेज कर ठगी हुई थी. वही तीन महिलाओं ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके सोशल मीडिया अकाउंट पर अश्लील फोटो भी डाले गए हैं. जिसे क्राइम ब्रांच ने पड़ताल करने के बाद हटवाया.

क्राइम ब्रांच एएसपी राजेश दंडोतिया ने बताया कि ऐसी सैकड़ों शिकायतें आई हैं, जिनमें फरियादियों को ऑनलाइन के माध्यम से अपना शिकार बनाया गया है.

इंदौर:गरीबों को दिए जाने वाले राशन में हुआ घोटाला जांच में आपूर्ति विभाग के अफसर

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि लॉकडाउन के दौरान ऐसी डेढ़ सौ शिकायतें मिली थी. जिसमें एसपी उज्जैन, छोटी ग्वालटोली टी आई, सराफा टीआई सहित कई एसआई और एएसआई रैंक के अफसरों के फेसबुक एकॉउंट हैक कर उनसे ठगी की गई थी. बताया कि क्राइम ब्रांच सभी पहलुओं का गहनता से अध्ययन कर रही है और इन ठगों को अपने शिकंजे में फंसाए जाने के लिए भरसक प्रयास करने में जुटी हुई है. शीघ्र यह ठगी करने वाले लोग सलाखों के पीछे होंगे.

 

https://smart.livehindustan.com/indore/news/indore-supply-department-officer-investigating-scams-in-ration-to-poor-81600080126783.html
आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें