इंदौर में देह व्यापार के दो एजेंट गिरफ्तार, बांग्लादेश से लाते थे लड़कियां.

Smart News Team, Last updated: 08/10/2020 06:49 PM IST
  • देह व्यापार रैकेट में पकड़े गए दो आरोपियों को इंदौर पुलिस ने किया गिरफ्तार. पिछले कई दिनों से कर रहे थे इन आरोपियों की तलाश.
देह व्यापार रैकेट में इंदौर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है.

इंदौर: देह व्यापार रैकेट में इंदौर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. दरअसल, सूरत के दो बड़े एजेंट बांग्लादेश से बॉर्डर पार करवाकर लड़कियों को भारत लाते थे और यहां पर उन लड़कियों को बेच दिया करते थे. विजय नगर पुलिस की टीम ने पांच दिन जांच के बाद इन दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. यह दोनों एजेंट्स बड़े शहरों में और स्पा सेंटरों में नौकरी के नाम पर बांग्लादेशी लड़कियों से देह व्यापार करवाते हैं. वहीं, एजेंट्स ने 1 हजार से ज्यादा बांग्लादेशी लड़कियों के भारत में देह व्यापार के लिए लाए जाने की बात कबूली है.

हरिनारायणाचारी मिश्र ने बताया कि सूरत से पकड़े गए दोनों एजेंट आरोपी आरुज सैयदऔर टीटू गाजी बंगाली का बांग्लादेश से सीधा कनेक्शन है. ये सूरत में स्लम इलाके की बस्ती में किराए का मकान लेकर रह रहे थे. 4 दिन से इनकी तलाश में हमारे यहां की टीमें सक्रिय थीं, लेकिन अखबारों और न्यूज चैनल में रैकेट का खुलासा होने के बाद ये अपना पुराना घर छोड़कर भाग गए थे.

आईटी कंपनी के मालिक के घर चोरी, चांदी के बर्तन, 40 हजार रुपए कैश और डीवीआर चोरी

बता दें, इंदौर पुलिस की टीम पिछले पांच दिनों से सूरत में आरोपियों की तलाश कर रही थी. टीम के जवान एजेंट बनकर बांग्लादेशी लड़कियों की खरीद-फरोख्त करने वाले बनकर गए थे. वहां के कुछ छोटे एजेंटों को ये जानकारी दी कि उन्होंने उन्हें रुपए खाते में डलवा लिए हैं, लेकिन लड़कियां नहीं मिलीं. इस पर कुछ एजेंटों ने पुलिस जवानों को एजेंट मानकर ही यह जानकारी दी. जिसके बाद पुलिस ने घेराबंदी करके पकड़ लिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें