केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया आपात बैठक के लिए आधी रात पहुंचे कंट्रोल कमांड सेंटर

Smart News Team, Last updated: Sun, 8th Aug 2021, 1:13 PM IST
  • केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर पहुंचते ही एक्शन मोड में आ गए. इस दौरान उन्होंने आधी रात में कंट्रोल कमांड सेंटर में आपातकालीन बैठक की. इस बैठक में उन्होंने प्रदेश में आई बाढ़ को लेकर हालातों की जानकारी ली और राहत के लिए मंथन किया.
केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आधी रात को कंट्रोल कमांड सेंटर में की आपात बैठक

इंदौर. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया देर रात को ग्वालियर पहुंचे. यहां पर आधी रात में सिंधिया ने कंट्रोल कमांड सेंटर में आपातकालीन बैठक की. इस बैठक में उन्होंने प्रदेश के कई जिलों में आई बाढ़ की स्थिति और प्रभावित इलाकों में चल रहे राहत कार्यों के बारे में जानकारी ली. सिंधिया के साथ इस बैठक में प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट, उर्जा मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर, कमिश्नर और कलेक्टर मौजूद थे. इस दौरान सबसे पहले नागरिक उड्डयन मंत्री ने टोक्यो ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड जीतने वाले नीरच चौपड़ा को बधाई दी. सिंधिया ने कहा नीरज ने गोल्ड जीतकर देश का नाम ऊंचाइयों तक पहुंचाया है.

कंट्रोल कमांड सेंटर में हुई आपातकालीन बैठक में सिंधिया ने कहा कि प्रदेश के बाढ़ प्रभावित जिलों में पीड़ितों को तत्काल आर्थिक सहायता उपलब्ध कराएं. इसके साथ ही बाढ़ से हुए नुकसान की सर्वे करके उसका मुआवजा दिया जाए. भविष्य में ऐसा न हो इसके लिए प्लान तैयार किया जाए. इसके साथ ही सिंधिया ने कहा ग्वालियर-चंबल संभाग के आठों जिलों के कलेक्टर रात भर बैठकर पूरी प्लानिंग तैयार करें और मुझे अवगत कराएं.

वहीं बाढ़ प्रभावित इलाकों में हो रहे रहात कार्यों के लिए सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया. सिंधिया ने कहा मैं प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और रक्षामंत्री को ध्यानवाद देता हूं, जिन्होंने ने मेरा हर कॉल पर केंद्र सरकार के साधन जनता के लिए उपलब्ध कराए. वहीं प्रदेश में सिंधिया ने हवाई सेवाओं को लेकर फ्लाइट के बारे में जानकारी दी. सिंधिया ने कहा ग्वालियर भोपाल और जबलपुर के लिए कुल मिलाकर 25 से 27 नए फ्लाइट के कनेक्शन आ चुके हैं.

केंद्रीय मंत्री सिंधिया का फेसबुक पेज हैक, PM मोदी के खिलाफ बोले भाषण अपलोड

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें