'एसिडिटी' की समस्या ने बदल दिया फ्लाइट का रास्ता, जारी किया गया इमरजेंसी अलर्ट

Smart News Team, Last updated: Wed, 24th Nov 2021, 10:42 AM IST
  • हवाई यात्रा के दौरान 25 वर्षीय एक महिला यात्री द्वारा सीने में दर्द की शिकायत किए जाने पर एक निजी एयरलाइन के दिल्ली से बेंगलुरु जा रहे विमान का रास्ता बदला गया. हालांकि, महिला को जब नजदीकी अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों की जांच से पता चला कि उसे गैस और ‘एसिडिटी’ की मामूली समस्या थी.
निजी एयरलाइन के दिल्ली से बेंगलुरु जा रहे विमान का रास्ता बदलकर इंदौर में लैंड करवाया गया. (प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर. 'खोदा पहाड़ और निकली चुहिया' ये मुहावरा तो आपने जरूर पढ़ा होगा. कुछ ऐसा ही हुआ है दिल्ली से बेंगलुरु जा रहे विमान के साथ. जिसको एक छोटी से वजह से रास्ता बदलना पड़ा. दरअसल हवाई यात्रा के दौरान 25 वर्षीय एक महिला यात्री को सीने में दर्द की शिकायत हुई. जिसके बाद निजी एयरलाइन के दिल्ली से बेंगलुरु जा रहे विमान का रास्ता बदला गया. मेडिकल इमरजेंसी के चलते फ्लाइट को इंदौर के देवी अहिल्याबाई होलकर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतारा गया. इसके बाद महिला को जब नजदीकी अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों की जांच से पता चला कि उसे गैस और ‘एसिडिटी’ की मामूली समस्या थी. महिला की इस मामूली-सी तकलीफ के कारण विमान में सवार सैकड़ों यात्री परेशान होते रहे.

यह था पूरा मामला

मिली जानकारी के मुताबिक विस्तारा एयरलाइंस की दिल्ली से बैंगलुरु जाने वाली फ्लाइट (यूके-807) के पायलट ने रात करीब 9.45 बजे इंदौर एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) से संपर्क करते हुए फ्लाइट की मेडिकल इमरजेंसी लैंडिंग की अनुमति मांगी. पायलट ने बताया कि विमान में सवार एक महिला यात्री को सीने में दर्द और घबराहट हो रही है. इस पर एटीसी ने पायलट को तुरंत विमान को डायवर्ट कर इंदौर लाने की अनुमति दी.

अमेजन से खरीदा जहर खाकर लड़के ने किया सुसाइड, कंपनी स्टाफ पर एक्शन की तैयारी !

एयरपोर्ट पर जारी किया इमरजेंसी अलर्ट

एयरपोर्ट पर मेडिकल इमरजेंसी अलर्ट भी जारी किया गया. इस पर एयरपोर्ट पर तुरंत एम्बुलेंस और डॉक्टर को तैयार किया गया. विमान रात 10.07 बजे एयरपोर्ट पर लैंड हुआ. इसके बाद महिला यात्री को तुरंत एम्बुलेंस में शिफ्ट कर नजदीकी बांठिया हॉस्पिटल ले जाया गया और वहां पता चला कि महिला को मात्र एसिडिटी की समस्या थी. हालांकि दवाएं दिए जाने के बाद उसकी यह समस्या दूर हो गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें