इंदौर में पुरानी लकड़ी और कबाड़ से तैयार 4 आर गार्डन

Smart News Team, Last updated: Wed, 10th Feb 2021, 5:19 PM IST
  • इंदौर शहर में 4 आर गार्डन का शुभारंभ हो चुका है. गार्डन को एनजीओ और फाइन आर्ट्स् के स्टूटेंड्स ने मराठी स्कूल की पुरानी लकड़ी और ट्रेचिंग ग्राउंड में पड़े कबाड़ को इस्तेमाल कर तैयार किया गया.
फाइल फोटो

इंदौर. शहर में 4 आर गार्डन का शुभारंभ हो चुका है. इस गार्डन को एनजीओ और फाइन आर्ट्स् के स्टूटेंड्स ने मराठी स्कूल की पुरानी लकड़ी और ट्रेचिंग ग्राउंड में पड़े कबाड़ को इनोवेटिव तरीके से इस्तेमाल कर डेकोरेट किया है. विद्यार्थियों और एनजीओ के लोगों ने इन्हें अलग-अलग कलाकृतियां भी दी हैं. इस गार्डन का नाम पहले नाना-नानी गार्डन था, जिसे बदलकर अब ज्योतिबा फुले 4 आर गार्डन यानी रियूज, रिड्यूस, रिफ्यूज और रिसायकल के नाम से जाना जाएगा.

इस गार्डन को तैयार करने में नगर निगम ने केवल डेढ़ लाख रुये में ही सिविल कार्य पूरा कर लिया था. इस गार्डन के बारे में बात करते हुए निगमायुक्त ने कहा कि वेस्त के महत्य को बताने के लिए इसमें सात टन से अधिक वेस्ट का प्रयोग किया गया है. इसमें वेस्ट को भी अलग-अलग प्रकार की आकृतियों में ढाला गया है. गार्डन को डेकोरेट करने में मराठी स्कूल की पुरानी लकड़ी, रस्सा, टायर, प्लाय, तेल के ड्रम, पुरानी जाली, सरिए, वेस्ट प्लास्टिक बॉटल, पाड़ा गाड़ी, पुरानी जाली, सरिया और प्लास्टिक की बॉटल का इस्तेमाल किया गया है.

इंदौर: व्यापारियों ने की GST खत्म करने की मांग, 26 फरवरी को दुकानें रहेंगी बंद

ह्यूमन मैट्रिक्स संस्था के कैप्टन सनप्रीस सिंह नेगी ने बताया कि फाइन आर्ट्स के विद्यार्थियों ने गार्डन में झाड़ू लगाते हुए सफाई कर्मियों की आकृतियां भी बनाई हैं. विद्यार्थियों ने ड्रम के जरिए जहां हैंगिंग पूल का निर्माण किया है तो वहीं वेस्ट प्लास्टिक और बॉटल कैप से गाय की आकृतियां भी बनाईं. गार्डन का उद्घाटन पर्यटन व संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर, निगमायुक्त प्रतिभा पाल, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता ने कन्या पूजन कर किया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें