इंदौर: कोरोना के कारण डीएवीवी में एक समय पर सिर्फ 15 छात्रों को परोसा जाएगा खाना

Smart News Team, Last updated: 11/12/2020 03:28 PM IST
  • इंदौर: कॉलेज खुलने के साथ ही अब जल्द ही देवी अहिल्या विश्वविद्यालय में होस्टल और मैस आदि भी खुद सकते हैं. इसको लेकर यूनिवर्सिटी ने होस्टल व मैस संचालन के संबंध में गाइडलाइन बनाई है.
फाइल फोटो

इंदौर: कॉलेज खुलने के साथ ही अब जल्द ही देवी अहिल्या विश्वविद्यालय में होस्टल और मैस आदि भी खुद सकते हैं. इसको लेकर यूनिवर्सिटी ने होस्टल व मैस संचालन के संबंध में गाइडलाइन बनाई है. बता दें कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब मैस में विद्यार्थियों को एक साथ भोजन नहीं परोसा जाएगा, बल्कि लंच व डिनर के दौरान एक समय में सिर्फ 15-15 विद्यार्थियों को मैस परिसर में प्रवेश मिलेगा. यहां तक मैस संचालक को लंच व डिनर का समय बढ़ाना होगा.

इसको लेकर खाने के लिए कम से कम तीन घंटे का समय निर्धारित किया गया है. फिलहाल विश्वविद्यालय प्रशासन ने मैस संचालन की निगरानी चीफ वार्डन को सौंपी है. सत्र 2020-21 में कक्षाएं शुरू करने को लेकर जल्द ही सरकार कॉलेज व विश्वविद्यालय खोल सकती है. उम्मीद जताई जा रही है कि दस महीने बाद यानी जनवरी से संस्थानों में फिर विद्यार्थियों की हलचल देखी जा सकती है. विश्वविद्यालय के तक्षशिला परिसर में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए 14 होस्टल बने हैं. 90 फीसद होस्टल में खुद की मैस चलती है.

इंदौर में आईएमए की हड़ताल को समर्थन, इमरजेंसी को छोड़ अन्य सेवाएं होंगी बाधित

पहले विद्यार्थियों को अपना भोजन खत्म करने के लिए डेढ़ घंटे का समय मिलता था.मगर कोरोना वायरस के चलते मैस की व्यवस्थाओं में बदलाव किया है. वहीं, इसको लेकर चीफ वार्डन डॉ.जीएल प्रजापति ने कहा कि मैस में एक समय में एक साथ विद्यार्थियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. 15-15 विद्यार्थियों का ग्रुप बनाकर मैस में जाने की अनुमति होगी. पहला ग्रुप मैस से बाहर आने के बाद ही दूसरे ग्रुप को अंदर जाने दिया जाएगा. प्रत्येक होस्टल में 80-100 विद्यार्थियों के बीच रहते हैं. ऐसे में लंच व डिनर का समय बढ़ाया जाएगा ताकि प्रत्येक विद्यार्थी आसानी से भोजन कर सकें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें