इंदौर: नीट की प्रवेश परीक्षा के लिए शहर में बनाए गए 63 परीक्षा केंद्र

Smart News Team, Last updated: 10/09/2020 12:28 PM IST
  • इंदौर.13 सितंबर रविवार को आयोजित हो रही है नीट की प्रवेश परीक्षा कोरोना पॉजिटिव छात्र नहीं दे सकेंगे नीट के छात्रों को मिलेगी निशुल्क परिवहन की सुविधा
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर। राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा के लिए शहर में 63 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. परीक्षा को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है. यह परीक्षा 13 सितंबर रविवार को शहर के 63 केंद्रों पर आयोजित की गई है. इसमें शहर के अलग-अलग इलाकों व अन्य शहरों से परीक्षार्थी शामिल होंगे. केंद्रों को सोशल डिस्टेंसिंग और क्राउन मैनेजमेंट का विशेष ध्यान रखना होगा

राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) को लेकर शहर के परीक्षा केंद्रों पर तैयारियां अंतिम दौर में हैं.13 सितंबर को होने वाली परीक्षा के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) का पूरा ध्यान कोविड की गाइडलाइन के पालन पर है.इसको लेकर सभी केंद्रों को सख्त और स्पष्ट निर्देश दे दिए गए हैं. परीक्षा केंद्रों को पूरी करनी होगी कोरोना की गाइडलाइन

शहर के 63 परीक्षा केंद्रों को सरकार द्वारा जारी की गई. गाइडलाइन को पूरा किए जाने के स्पष्ट निर्देश दे दिए गए हैं. इस दौरान परीक्षा केंद्रों पर थर्मल स्कैनिंग सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क लगाए जाने के लिए निर्देश दिए गए हैं.

साथ ही कोरोना पॉजिटिव परीक्षार्थियों को परीक्षा में सम्मिलित नहीं होने दिया जाएगा. कोरोना पॉजिटिव परीक्षार्थियों के लिए यह निर्देश पहले से स्पष्ट कर दिए गए हैं. केंद्रों को सोशल डिस्टेंसिंग और क्राउन मैनेजमेंट का विशेष ध्यान रखना होगा. एनटीए ने स्पष्ट किया है कि कोरोना पॉजिटिव छात्र परीक्षा नहीं दे पाएंगे.

इंदौर: आज से शुरू हुई हावड़ा और दिल्ली ट्रेन के लिए रिजर्वेशन की सुविधा

जिन छात्रों को सर्दी, खांसी, बुखार सहित कोरोना के अन्य लक्षण होंगे उन्हें आइसोलेशन रूम में बैठाया जाएगा. हर सेंटर पर आइसोलेशन रूम की व्यवस्था भी की गई है. मालूम हो कि नीट के लिए शहर में 63 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. परिवहन के लिए अब तक 172 परीक्षार्थियों ने किया आवेदननीट प्रतिभागियों को भी शासन की नि:शुल्क परिवहन सुविधा मिलेगी. इसमें आना-जाना दोनों शामिल रहेगा.इसके लिए mapit.gov.in/covid-19 पर पंजीयन करवाना होगा. अब तक 172 छात्र रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं. छात्रों को विकासखंड या जिला मुख्यालय तक खुद आना होगा. एक परिजन को लाने की अनुमति है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें