इंदौर: कोरोना से ठीक हुए मरीजों में देखी गई नई बीमारी, डॉक्टर भी हो गए परेशान

Smart News Team, Last updated: 17/10/2020 07:24 PM IST
  • कोरोनावायरस का कहर जहां देश में देखने को मिल रहा है, वहीं दूसरी ओर कोरोना से ठीक हुए लोगों मे एक अलग ही बीमारी देखने को मिल रही है. दरअसल, कोविड-19 को मात देने वाले 50 प्रतिशत मरीजों में नींद न आने और 25 से 30 फीसद मरीजों में एकाएक दिल की धड़कन बढ़ने की समस्यां सामने आ रही हैं.
कोरोना को तो मात दे चुके लोग,दूसरी बीमारी के घेरे में

इंदौर:कोरोनावायरस के चपेट में जहां देश में 73 लाख से ज्यादा लोग आ चुके हैं. वहीं, इस संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों में अब एक नया लक्षण देखने को मिल रहा है. दरअसल, कोविड-19 को मात देने वाले 50 प्रतिशत मरीजों में नींद न आने और 25 से 30 फीसद मरीजों में एकाएक दिल की धड़कन बढ़ने की समस्यां सामने आ रही हैं. मरीजों की ऐसी शिकायत से डॉक्टर भी आश्चर्य में है. इनमें से कुछ मरीज ऐसे भी हैं, जो कोरोना को तो मात दे चुके हैं, लेकिन उसके बाद उनके शरीर में खून के थक्के जम गए. जिसके कारण उन्होंने अस्पताल में भर्ती होकर इलाज करवाना पड़ा, लेकिन डिस्चार्ज होने के बाद फिर से उनमें यह समस्या देखी गई.

इंदौर में दो युवाओं ने खोजा कपड़ों का फॉर्मूला, जो मक्खी और मच्छरों को रखेगा दूर

बता दें, मरीजों की शिकायत सुनने के बाद डॉक्टर उनकी बीमारी पर रिसर्च कर रहे हैं और उसी के अनुसार दवाइयां दे रहे हैं. अरबिंदो चिकित्सा अस्पताल के छाती रोग विभाग के प्रोफेसर व विभागाध्यक्ष डॉ. रवि डोसी के मुताबिक संक्रमण से ठीक हुए कुछ मरीजों के हाथ-पैर में झुनझुनी होने, नींद न आने, जांघ में तेज दर्द व दिल की धड़कन बढ़ती हुई महसूस होने की शिकायत आ रही है.

कुछ मरीजों में खून के थक्के जमने की प्रवृत्ति भी दिखाई दीं, जैसे चिकनगुनिया में हाथ-पैर में दर्द होता है वैसे ही बदन व जोड़ों में दर्द के लक्षण दिखाई दे रहे हैं. वहीं, डॉक्टर भी मरीजों की इस समस्या पर शोध कर रहे हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें