रोबोट मशीनें करेंगी चैंबरों की सफाई, इंसानों को नहीं उतरना होगा अब गहरे नाले में

Smart News Team, Last updated: 03/10/2020 01:25 PM IST
  • 6 माह में 113 बैक लेन को बनाया सुंदर, गांधी जयंती पर इन्हें आदर्श मान निगम ने 10 हजार बैक लेन सफाई की शुरुआत की. रवींद्र नाट्यगृह में रोबोटिक चैंबर क्लीनिंग मशीनों का प्रदर्शन किया गया.
अब रोबोट करेंगे इंदौर के चैम्बरों की सफाई

इंदौर। इंदौर शहर में अब नगर निगम के कर्मचारियों को गहरे नाले में उतर कर सफाई नहीं करनी होगी. इसके लिए नगर निगम द्वारा अब रोबोट की तैनाती कर दी गई है. इंदौर शहर के चैम्बरों की सफाई रोबोट करेंगे. इससे अब कर्मचारियों को गहरी नाली में उतर कर सफाई करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

इससे इंसान अब सुरक्षित रहेंगे

वह किसी भी बीमारी से बचे रहेंगे. साथ ही कई बार चेंबर में दबने से उनकी मौत हो जाती थी. ऐसी घटनाओं से निजात मिलेगी. इंदौर नगर निगम द्वारा नए रोबोट की खरीदारी कर ली गई है. यही रोबोट अब शहरों के चैम्बरों की साफ सफाई करते हुए आपको नजर आएंगे.दो करोड़ की रोबोटिक चैंबर क्लीनिंग मशीनें और फोर आर गार्डन का भी उद्घाटन कर दिया गया है. पांचवीं बार नंबर 1 बनने का सबसे बड़ा आधार यह मशीनें बनेंगी. सफाई में चौका लगाने के बाद इंदौर ने सफाई में पांचवीं बार नंबर 1 बनने की तैयारी भी शुरू कर दी है. छह माह में 113 बैक लेन को इतना साफ और सुंदर बना दिया है कि ये घरों के सामने की गलियों से भी ज्यादा स्वच्छ हो गई हैं.

गांधी जयंती के मौके पर निगम ने इन 113 बैक लेन को आदर्श मानकर शहर की 10 हजार से ज्यादा बैक लेन को साफ करने का शुभारंभ किया.इसके साथ ही दो करोड़ की रोबोटिक चैंबर क्लीनिंग मशीनें और फोर आर गार्डन का भी उद्घाटन किया गया.

हनीट्रैप केस को उजागर करने वाले इंजीनियर हरभजन सिंह ने ब्लैकमेलिंग की शिकायत

गांधी जयंती पर बैक लेन के काम को आगे बढ़ाने की शुरुआत की

कलेक्टर मनीष सिंह ने रवींद्र नाट्यगृह में गांधी जयंती के अवसर पर वेट लैंड सफाई और सौंदर्यीकरण के साथ सीवरेज पाइप लाइन में रोबोट के माध्यम से सफाई व्यवस्था का शुभारंभ किया.कार्यक्रम में रोबोट को प्रदर्शित भी किया गया. नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि शहर की काॅलोनियों में बैक लेन में पहले गंदगी हुआ करती थी, लेकिन अब शहरवासियों ने ही इस गंदगी को खत्म करने का बीड़ा उठाया है, जिसमें नगर निगम इंदौर महती भूमिका अदा कर रहा है.

इस तरह से बैक लेन को बनाया जा रहा सुंदर

प्रतिभा पाल ने बताया कि नगर निगम के कर्मचारी की पाइप लाइन में उतर कर मलवा कूड़ा करकट निकालने का काम करते थे, जिसमें दम घुटने सहित कई अन्य प्रकार की बीमारियां भी होती थीं.इन्हीं सबको ध्यान में रखकर तैयार किया हुआ रोबोट अब सीवरेज पाइप लाइन में अंडरग्राउंड 10 मीटर तक सफाई का कार्य करेगा. कलेक्टर मनीष सिंह ने नगर निगम इंदौर को बधाई देते हुए कहा कि नगर निगम इंदौर आज अच्छा कार्य कर रहा है. 20 से 30 लाख तक की रोबोटिक मशीनों से अब शहर के चैंबर साफ होंगे.

बैक लेन में इसलिए होती है इतनी गंदगी

बैक लेन में गंदगी का मुख्य कारण वे लोग हैं, जो गीला-सूखा कचरा अलग-अलग नहीं करते और कचरे को गाड़ी में डालने की बजाय अकसर चोरी-छिपे रात में बैक लेन में कचरा फेंक देते हैं. कई बार ऐसा भी हुआ कि बैक लेन में सफाई करते सफाईकर्मियों पर भी लोगों ने कचरा फेंक दिया.कार्यक्रम में संभाग आयुक्त डॉ. पवन शर्मा, कलेक्टर मनीष सिंह और निगम आयुक्त प्रतिभा पाल मौजूद रही.

इस तरह होगी बैक लेन साफ करने की शुरुआत

बैक लेन साफ करने के लिए एनजीओ ह्यूमन मैट्रिक्स ने जोन 3 व 6 के लिए योजना बनाकर निगमायुक्त प्रतिभा पाल के समक्ष प्रस्तुत की. सबसे पहले एनजीओ ने सभी बैक लेन में रहवासियों की स्वच्छता समिति बनाई व काम की जिम्मेदारी सौंपी गयी.सभी घरों में स्वच्छता संदेश वाले कार्ड पोस्ट किए गए. एनजीओ ने बैक लेन की निगरानी के लिए टीम बनाई और सुबह 4 से 6 और रात 10 से 12 बजे तक निगरानी की जो लोग कचरा डालने आते थे, उन्हें रोका गया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें