कोरोना काल में अजमेर में ख्वाजा के गुरु की याद में उर्स का मेला, इस दिन शुरू

Smart News Team, Last updated: Sat, 15th May 2021, 9:59 PM IST
  • राजस्थान के अजमेर में ईद के बाद चांद की पांच एवं छह तारीख को ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के गुरू पीर ओ मुर्शिद हजरत उस्मान हारूनी का उर्स 18 मई और 19 मई को उर्स मनाया जाएगा. ख्वाजा साहब के गुरु पीर ओ मुर्शिद हजरत उस्मान हारूनी का उर्स ईद के बाद मनाए जाने की परम्परा है.
ख्वाजा के गुरू पीर ओ मुर्शिद हजरत उस्मान हारूनी का उर्स 18 मई और 19 मई को उर्स मनाया जाएगा.

जयपुर- राजस्थान के अजमेर में ईद के बाद चांद की पांच एवं छह तारीख को ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के गुरू पीर ओ मुर्शिद हजरत उस्मान हारूनी का उर्स मनाया जाएगा. यानि 18 मई और 19 मई को उर्स मनाया जाएगा. अजमेर दरगाह शरीफ से जुड़े खादिम बताते हैं कि ख्वाजा साहब के गुरु पीर ओ मुर्शिद हजरत उस्मान हारूनी का उर्स ईद के बाद मनाए जाने की परम्परा है.

बता दें कि इस मौके पर एक बार फिर से दरगाह स्थित जन्नती दरवाजे को खोला जाएगा. मिली जानकारी के मुताबिक, दरवाजा सुबह तड़के चार बजे खोल कर कुल की रस्म के बाद दिन में दोपहर सवा बजे बंद कर दिया जाएगा.

पेट्रोल डीजल 15 मई का रेट: जयपुर, जोधपुर, अलवर, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर में नहीं बदले तेल के दाम

दरगाह में आम जायरीनों के प्रवेश पर प्रतिबंध के चलते उर्स एवं जन्नती दरवाजा खोलने की परम्परा रस्मीतौर ही निभाई जायेगी. इस दौरान आस्ताना शरीफ की खिदमत के लिए लगे खुद्दाम यानि खादिम ही जियारत कर सकेंगे. यहां बताते चलें कि बीते 19 अप्रैल को कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते गाइडलाइन के तहत दरगाह शरीफ को बंद करने का फैसला लिया गया था. फिलहाल, दरगाह के मुख्य निजाम गेट के अलावा सभी प्रवेश द्वार बंद है.

जयपुर में रलवे के कोविड केयर कोच स्टेशन की बढ़ा रहे शान , अब तक नही लिया गया काम

जयपुर के टीबी अस्पताल में भी शुरू हुआ कोविड का इलाज,कोरोना मरीजों को मिलेगी राहत

राजस्थान में वैक्सीन का ग्लोबल टेंडर, गहलोत बोले- अच्छा होता केंद्र करता

जयपुर: हाईकोर्ट ने दवा की कालाबाजारी करने वाले एमबीबीएस छात्र की याचिका की खारिज

सावधान: हाईवे पर महिलाओं की ड्रेस में लुटेरे एक्टिव, लिफ्ट मांगते हैं और फिर…

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें