पिता बेटे के लिए थप्पड़ बना काल, नाराज युवक ने दोनों की गोली मार की हत्या

Shubham Bajpai, Last updated: Mon, 8th Nov 2021, 10:23 PM IST
  • राजस्थान के भरतपुर में एक पिता बेटे के लिए एक थप्पड़ काल बन गया. बीती रात मोहल्ले के एक युवक से विवाद हो गया था. जिस पर पिता ने उसको एक थप्पड़ मार दिया था. थप्पड़ से युवक का भाई इस कदर नाराज हो गया कि उसने पिता और बेटे को गोली मार उनकी हत्या कर दी. 
पिता बेटे के लिए थप्पड़ बना काल, नाराज युवक ने दोनों की गोली मार की हत्या

जयपुर. राजस्थान के भरतपुर में एक युवक ने एक विवाद के चलते गोली मारकर एक पिता बेटे की कथित तौर पर हत्या कर दी. इस दौरान आरोपी युवक खुद भी गोली लगने से घायल हो गया, उसका इलाज चल रहा है. जानकारी अनुसार, बीती रात किसी बात को लेकर सुरेंद्र सिंह का लखन शर्मा से विवाद हो गया. जिस पर सुरेंद्र ने लखन को थप्पड़ मार दिया. ये बात लखन के भाई दिलावर को इस कदर खराब लग गई कि उसने अगले दिन विवाद के निपटारे के लिए बुलाई पंचायत में कथित तौर पर सुरेंद्र सिंह और उसके 17 साल के बेटे सचिन को गोली मार दी. जिससे दोनों की मौत हो गई.

इस मामले में लापरवाही बरतने पर दो पुलिसकर्मियों जिनमें एक एसआई और एक हेड कांस्टेबल को भी सस्पेंड किया गया है.

IAS टीना डाबी की बहन रिया के फेक आईडी से मांगे जा रहे पैसे, फॉलोवर्स को किया अलर्ट

खुद गोली मार खुद दिलावर ने बुलाई पुलिस

लोगों ने बताया कि दोनों पक्षों में सुलह करवाने को दोनों पक्षों के लोग सुरेंद्र के घर इकट्ठा हुए. इस दौरान लखन के भाई दिलावर ने सुरेंद्र और उसके बेटे को कथित तौर पर गोली मार दी. इस दौरान दिलावर के पैर में भी गोली लग गई. इसके बाद दिलावर ने खुद पुलिस को सूचना दी कि उसको सुरेंद्र ने गोली मार दी. पुलिस ने तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया जहां सचिन और सुरेंद्र की मौत हो गई और दिलावर की पुलिस हिरासत में इलाज चल रहा है.

सर्दियों में कीजिए जयपुर, जैसलमेर समेत राजस्थान के 4 शहरों की यात्रा, IRCTC ने निकाला टूर पैकेज

पुलिस को रात में दी गई थी विवाद की सूचना

जानकारी अनुसार, देर रात विवाद के बाद पुलिस को सूचना दी गई. मौके पर एसआई विजय पाल और हेड कांस्टेबल मान सिंह पहुंचे थे. उन्होंने दोनों पक्षों को समझाया और चले गए. जिसको लेकर पिता बेटे की मौत के बात जमकर हंगामा हुआ. जिस पर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र कुमार ने दोनों पर लापरवाही करने को लेकर कार्रवाई करते हुए सस्पेंड कर दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें