जिस हेलिकॉप्टर में गहलोत बाल बाल बचे थे, उसे राजस्थान सरकार बेचेगी

Smart News Team, Last updated: 13/08/2020 06:27 PM IST
  • सरकारी बेड़े के अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर को बेचने के लिए सरकार तैयार हो गई है. अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर को 4 सिंतबर को बेचा जाएगा. जिसके लिए सरकार ने खुली नीलामी के नियम—शर्त जारी किए हैं.
अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर

अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर को बेचने के लिए तैयार सरकार, इसी हेलीकॉप्टर से बाल बाल बचे थे गहलोत

सारांश- 

जयपुर- पिछले नौ साल से सरकारी चेतक बने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर को बेचने के लिए राजस्थान सरकार एक बार फिर से तैयार हो गई है. हेलीकॉप्टर को खुली नीलामी में बेचा जा रहा है. जिसके लिए 4 सितंबर की तारीख तय की गई है. स्टेट हैंगर के नागरिक उड्डयन निदेशालय में इसकी नीलामी की जाएगी.

इतनी है न्यूनतम क़ीमत 

सरकार ने एडब्ल्यु— 109 ई पॉवर हेलीकॉप्टर की रिजर्व कीमत इस बार 4.5 करोड़ रुपए रखी है. जो सबसे अधिक बोली लगाएगा उसे हेलीकॉप्टर बेचा जाएगा. सरकार ने ये हेलीकॉप्टर साल 2006 में ख़रीदा था. लेकिन कुछ तकनीकी खराबी होने के बाद ये 2011 से ही स्टेट हैंगर पर खड़ा है. सरकार ने 2016 में हेलीकॉप्टर को बाइ बैक प्रक्रिया से बेचने की कवायद शुरु की थी. लेकिन निजी कंपनियों की ओर से एक ही कम्पनी के हित में निविदा शर्तें तय करने के आरोप के बाद इसे रद्द कर दिया गया था. अब इसकी रिजर्व कीमत घटा कर 4.5 करोड़ रुपए तय की गई है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपनी पिछली कांग्रेस सरकार के दौरान 2011 में इसी हेलीकॉप्टर में सवार होकर जा रहे थे लेकिन तभी तकनीकी खराबी आ गई. जिसके कारण हेलीकॉप्टर को तुरंत चूरू में लैंडिंग करवानी पड़ी. जिसके बाद से ही इस हेलीकॉप्टर के जरिए वीवीआईपी यात्रा भी बंद कर दी गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें