भीलवाड़ा कोऑपरेटिव बैंक घोटाला में दिए संपत्ति कुर्क के आदेश

Smart News Team, Last updated: Fri, 12th Mar 2021, 7:26 PM IST
  • भीलवाड़ा महिला शहरी सहकारी बैंक के साथ धोखाधड़ी करने के मामले में 9.97 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की जा रही है.
भीलवाड़ा कोऑपरेटिव बैंक घोटाला में दिए संपत्ति कुर्क के आदेश (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जयपुर: प्रवर्तन निदेशालय ने बड़ी कार्रवाई करते हुए भीलवाड़ा महिला शहरी सहकारी बैंक के साथ धोखाधड़ी करने के मामले में 9.97 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क करने के आदेश दिए हैं. प्रवर्तन निदेशालय के आदेश के अनुसार रवींद्र कुमार बोरदिया, कीर्ति बोरदिया, देव किशन आचार्य, महावीर चंद पारख, रोशन लाल संचेती और अन्य की चल और अचल संपत्ति कुर्क होगी. बता दें कि मनी लॉन्ड्रिंग के 25.10 करोड़ रुपए के मामले में 9.97 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की जा रही है.

जिन लोगों की संपत्ति कुर्क की जाएगी, वह सभी भीलवाड़ा के रहने वाले हैं. धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 के तहत इनकी संपत्ति कुर्क होगी. संपत्तियों में चार बैंक खाते शामिल हैं, जिनमें 4.39 लाख रुपये की बैलेंस राशि और 9.92 करोड़ रुपए की 262 अचल संपत्ति है, जिसमें भीलवाड़ा में स्थित 12 बीघा 2.5 बिस्वा कृषि भूमि, आवासीय और वाणिज्यिक संपत्तियां शामिल हैं.

50 लाख रुपए का लोन दिलाने का झांसा देकर, व्यक्ति से ठगे डेढ़ लाख रुपए

बता दें, राजस्थान पुलिस द्वारा दर्ज एफआईआर के आधार पर मनी लॉड्रिंग जांच शुरू की गई थी और मामले में चार्जशीट दायर की गई थी. 19 मई 2016 को राजस्थान पुलिस के पास इस मामले में शिकायत दर्ज की गई थी. पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि उक्त लोगों ने भीलवाड़ा महिला शहरी सहकारी बैंक के साथ 25.10 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की थी.

शहर में घरेलू गैस की 141 किमी पाइपलाईन बिछाने का लिया गया फैसला

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें