कांग्रेस के विधायक वेद प्रकाश सोलंकी का बड़ा बयान, महिलाएं भेज रही वीडियो हनीट्रैप में फंसाने की कोशिश

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 15th Sep 2021, 10:03 AM IST
  • जयपुर में जिला प्रमुख में कांग्रेस का बोर्ड नहीं बनने के बाद कांग्रेस की अंदरूनी कलह अब सामने आ रही है. कांग्रेस के विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने इस बीच बड़ा बयान दिया है. वेद प्रकाश ने कहा कि उन्हें महिलाएं वीडियो भेजती हैं. उन्हें हनीट्रैप में फंसाने की साजिश की जा रही है.
कांग्रेस का विधायक वेद प्रकाश सोलंकी का बड़ा बयान

जयपुर. जयपुर जिला प्रमुख में कांग्रेस का बोर्ड नहीं बनने और क्रॉस वोटिंग को लेकर अब कांग्रेस के दो गुट आमने-सामने आ गए हैं. जिसमें कांग्रेस के विधायक व पायलट के करीबी माने जाने वाले विधायक वेद प्रकाश सोलंकी को गहलोत गुट के लोग जिम्मेदार मान रहे हैं. जिसको लेकर अब सोलंकी ने नाराजगी जाहिर करते हुए इसे उनके खिलाफ साजिश करार दिया. उन्होंने कहा कि उन्हें फंसाने की कोशिश की जा रही है. मेरे पास महिलाए वीडियो भेजती हैं. मुझे हनीट्रैप में फंसाने की कोशिश की जा रही है. वहीं, सोलंकी ने कहा कि बिना मेरे बयान लिए रिपोर्ट तैयार करके भेज दी गई है. इससे साफ पता चल रहा है कुछ लोग कांग्रेस को कमजोर कर रहे हैं.

फंसाने की हो रही कोशिश, नहीं हो रही कार्रवाई

विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने कहा कि पार्टी के अंदर उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है. मुझको हनीट्रैप में फंसाने की कोशिश की जा रही है. महिलाएं मेरे पास वीडियो भेजती है. महिलाओं को मेरे पीछे लगा दिया गया है. इसको लेकर मैंने पुलिस में भी शिकायत दर्ज करवाई है, लेकिन पुलिस अधिकारी ने प्राथमिकी तक दर्ज नहीं की है. न ही वो कोई कार्रवाई कर रहे हैं.

नेताओं-अधिकारियों की आवाज निकालकर व्यापारियों से लाखों की ठगी करने वाला मिमिक्रीबाज गिरफ्तार

ब्लॉक अध्यक्ष ने बीजेपी को बेच दिए कैंडिडेट

विधायक वेद प्रकाश ने चुनाव में मिली हार के लिए ब्लॉक अध्यक्ष को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि अध्यक्ष ने सारे कांग्रेस के कैंडिडेट बीजेपी को बेच दिए. इस चुनाव में गोविंद मेघवाल ने अपनी पुरानी पार्टी का शाथ दिया है. कांग्रेस को कमजोर करने की साजिश की जा रही है. ब्लॉक अध्यक्ष की तो होलट में बीजेपी नेताओं के साथ फोटो तक है. यह सब मिलकर मेरे खिलाफ साजिस कर रहे हैं, लेकिन मैं डरने वाला नहीं हूं.

राजस्थान में टूरिस्ट के साथ बदतमीजी पड़ेगी भारी, गहलोत सरकार ने सख्त किया कानून

सब पार्टी में घूमकर आने वाले खुद को कांग्रेस का पदाधिकारी बता रहे

सोलंकी ने खुद के खिलाफ भेजी गई रिपोर्ट पर नाराजगी जताई. सोलंकी ने कहा कि प्रभारी ने बिना मेरी जानकारी के रिपोर्ट भेजी दी है. जिन लोगों के खिलाफ शिकायत की गई, उन लोगों के बयान लेकर रिपोर्ट बंद लिफाफे में दिल्ली भेज दी गई है. चुनाव प्रभारी गोविंद मेघवाल जो खुद सभी पार्टियों से घूमकर आए हैं, वो आज खुद को कांग्रेस का पदाधिकारी बता रहे हैं. रिपोर्ट में मेरे राजनीतिक विरोधियों को ज्यादा महत्व दिया गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें