REET 2021: अपनी मांगों को लेकर BSTC अभ्यर्थियों का धरना जारी, आमरन अनशन की चेतावनी

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 18th Oct 2021, 2:00 PM IST
  • रीट लेवल-1 से बीएड धारकों को बाहर किए जाने की मांग को लेकर शहीद स्मारक पर बीएसटीसी अभ्यर्थियों का धरना 8वें दिन भी जारी है. इस बीच रविवार रात बारिश में भींगने से कई बीएसटीसी अभ्यर्थियों की तबीयत बिगड़ गई है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर. राजधानी के शहीद स्मारक पर बीएसटीसी अभ्यर्थियों का धरना 8वें दिन भी जारी है, इसके अलावा क्रमिक अनशन भी 6 दिनों से किया जा रहा है. रीट लेवल-1 से बीएड धारकों को बाहर किए जाने की मांग को लेकर यह धरना दिया जा रहा है. बीएसटीसी संघर्ष समिति की तरफ से चल रहे इस धरने में रात भर हुई बूंदा-बांदी के बावजूद भी प्रदर्शनकारी धरने पर जमे रहे.

मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार रात बारिश में भींगने से कई बीएसटीसी अभ्यर्थियों की तबीयत बिगड़ गई है. सोमवार से बीएसटीसी अभ्यर्थियों ने आमरन अनशन की चेतावनी दी है. धरने पर बैठे बीएसटीसी अभ्यर्थियों का कहना है कि शुरु से ही कक्षा 1 से 5वीं तक बीएसटीसी अभ्यर्थियों को लेवल-1 में रखा गया है. लेवल-1 बीएसटीसी वालों का हक रहा है. धरना पर बैठे बीएसटीसी अभ्यर्थियों का कहना है कि अब अगर लेवल-1 में बीएड धारियों को शामिल किया जाता है तो ज्यादातर बीएसटीसी अभ्यर्थी नियुक्ति से बाहर हो जाएंगे.

Rajasthan weather: जयपुर समेत दर्जनों जिलों में येलो अलर्ट जारी, भारी बारिश की आशंका

ऐसा माना जा रहा है कि बीएड अभ्यर्थियों के रीट लेवल-1 में शामिल होने से बीएसटीसी के करीब चार लाख से अधिक अभ्यर्थियों पर इसका असर होगा. बताते चलें कि शिक्षा विभाग की ओर से जारी रीट नोटिफिकेशन में लेवल-1 में केवल बीएसटीसी वालों को ही पात्र माना गया था लेकिन बीएड डिग्रीधारियों के हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने के बाद हाईकोर्ट ने बीएड वालों को दोनों लेवल में शामिल करने के आदेश दिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें