घर में सो रहे किसान के सिर पर अज्ञात बदमाशों ने दाग दी 6 गोलियां, मौत

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 1st Dec 2021, 4:52 PM IST
  • राजस्थान के बूंदी में एक किसान की सोते हुए अज्ञात बदमाशों ने हत्या कर दी. बदमाशों ने किसान के सिर में लगातार 6 फायर किए. गोली की आवाज सुनकर घर में जैसे अन्य लोगों की नींद खुली, तब तक आरोपी बदमाश फरार हो गए. मौके पर पहुंची पुलिस घटना की जानकारी कर जांच कर रही है.
बूंदी में घर में सो रहे किसान के सिर पर अज्ञात बदमाशों ने दाग दी 6 गोलियां, मौत

जयपुर. राजस्थान के बूंदी में एक दर्दनाक हादसा हो गया. बूंदी के नानकपुरिया गांव में एक किसान की सोते हुए अज्ञात बदमाशों ने गोली मार हत्या कर दी. किसान बंता सिंह के सिर पर बदमाशों ने लगातार 6 फायर किए. इस नृशंस हत्या के पीछे के कारणों का अभी तक पता नहीं चल सका. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों सौंप दिया. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है और मामले की जांच कर रही है.

गोली की आवाज सुन जागे परिजन

पुलिस के अनुसार, बंता सिंह खेत के बीच में बने अपने मकान के बरामदे में सो रहा था. इस दौरान करीब 1 बजे के बाद अज्ञात बदमाशों ने बंता सिंह पर हमला कर दिया. इस दौरान गोली की आवाज सुनकर परिजन जागे, तब तक आरोपी भाग निकले. परिजनों ने अपने परिवार वालों के साथ घटना की जानकारी पुलिस को दी. सूचना पाते ही एसएसपी समेत पुलिस के कई आला अधिकारी घटनास्थल पहुंच मालमे की तफ्तीश कर रहे हैं.

अजमेर में किराए के मकान में रहने वाले पराग अग्रवाल का ट्विटर सीईओ बनने तक का सफर

घटना के कारण अज्ञात

इस घटना के बाद पुलिस घरवालों समेत कई लोगों से पूछताछ कर रही है लेकिन अभी तक घटना के कारण अज्ञात है. परिजनों के अनुसार, गोली की आवाज सुनकर जब वो उठे, तो बंता का शव पलंग पर लहूलुहान अवस्था में पड़ा हुआ था. पुलिस ने अनुसार, मृतक पर देशी कट्टे से गोलियां दागी गई है. पुलिस साक्ष्य जुटाने का प्रयास कर रहा है.

हजारों लोगों के घर का सपना पूरा करेगी गहलोत सरकार, आम आदमी बनेगा मकान मालिक

जल्द होगी आरोपियों की गिरफ्तारी

पुलिस अधीक्षक किशोरीलाल ने इस संबंध में बताया कि मृतक लूट के मामले में जेल जा चुका है. वहीं, इतनी बड़ी घटना के दौरान घर का कुत्ता भौंका नहीं. जिससे इस मामले में साजिश के कयास भी लगाए जा रहे हैं. पुलिस मामले की जांच कर रही है जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें