कोरोना के कारण किसान बिल पर होने वाले प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस में किया बदलाव

Smart News Team, Last updated: 20/09/2020 07:25 PM IST
  • कोरोना संक्रमण के चलते 11 जिलों में धारा 144 लगने के बाद अब प्रदेश कांग्रेस ने सोमवार को होने वाले प्रदर्शन को लेकर अपनी रणनीति में बदलाव किया है.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

जयपुर| कोरोना संक्रमण के चलते 11 जिलों में धारा 144 लगने के बाद अब प्रदेश कांग्रेस ने सोमवार को होने वाले प्रदर्शन को लेकर अपनी रणनीति में बदलाव किया है. कृषि अध्यादेशों के विरोध में सभी जिलों में होने वाले विरोध प्रदर्शन अब प्रतीकात्मक होंगे. प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी इसके संकेत दिए हैं. 

जानकारी के मुताबिक, विरोध प्रदर्शन में अब पांच से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ता एकत्रित नहीं होंगे. पहले जिला, ब्लॉक लेवल के कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन करने के आदेश दिए गए थे, लेकिन देर रात कोरोना संक्रमण के चलते सरकार की ओर से 11 जिलों में धारा 144 लागू होने के बाद प्रदेश कांग्रेस ने अपनी रणनीति में बदलाव करते हुए प्रतीकात्मक विरोध प्रदर्शन का निर्णय लिया है. 

प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता केंद्र सरकार की ओर से लाए गए कृषि अध्यादेशों की  प्रतियां जलाकर अपना विरोध दर्ज कराएंगे. ये विरोध प्रदर्शन हर जिले में केंद्र सरकार के विभिन्न कार्यालयों के बाहर किया जाएगा. हालांकि, प्रदर्शन का समय तय नहीं किया गया है. 

जयपुर में आत्महत्या करने वाला अलवर का था परिवार, शोक में बंद रहेगी दुकानें

राजधानी जयपुर में इनकम टैक्स ऑफिस, ईडी या फिर सीबीआई दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करने की बात  कही जा रही है. दरअसल कल रात मुख्यमंत्री आवास पर हुई उच्च स्तरीय बैठक में सीएम ने प्रदेश के 11 जिलों में जिला मुख्यालय पर धारा 144 लगाने का फैसला किया है. 

जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, बीकानेर, उदयपुर,सीकर, पाली और नागौर जिलों  में सार्वजनिक स्थलों पर धारा-144 के तहत पांच से अधिक व्यक्तियों के एक साथ इकट्ठा होने पर प्रतिबंध रहेगा. सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने और सामाजिक दूरी के नियम का पालन अनिवार्य होगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें