जयपुर: कांग्रेस की इन्दिरा रसोई योजना पर शुरू हुई आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति

Smart News Team, Last updated: 21/08/2020 11:00 AM IST
  • भाजपा का आरोप है कि पिछ्ली भाजपा सरकार की अन्नपूर्णा रसोई योजना का नाम केवल नाम बदला गया है. साथ ही नाश्ते का प्रावधान था, उसे भी हटा दिया गया.
इन्दिरा रसोई योजना

जयपुर: राज्य सरकार की ओर से कल शुरु की गई इन्दिरा रसोई योजना को लेकर भारतीय जनता पार्टी हमलावर हो चुकी है. उन्होंने पिछली भाजपा सरकार द्वारा शुरु की गई अन्नपूर्णा योजना को ही नए कलेवर में पेश करने का आरोप लगाया है.

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मंत्री डॉ. अरुण चतुर्वेदी ने एक वक्तव्य जारी कर यह आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा शुरु की गई योजना में भी लोगों को सस्ते व पौष्टिक भोजन व नाश्ते की व्यवस्था की गई थी. जिसे राजस्थान में कांग्रेस सरकार आने के बाद बंद कर दिया गया था. अब उसी योजना को डेढ़ साल के बाद नए नाम से प्रारंभ कर वाह-वाही बटोरने का काम किया जा रहा है.

भाजपा नेता चतुर्वेदी ने मुख्यमंत्री पर कोरोना महामारी के दौरान भी गरीबों व मजदूरों के साथ अन्याय करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि अगर राज्य सरकार ने पुरानी अन्नपूर्णा योजना को बंद नहीं किया होता तो लाखों लोग कोरोना काल में भी सस्ते भोजन का लाभ उठाते. अन्नपूर्णा योजना में नाश्ते की भी व्यवस्था थी जबकि इस योजना में नाश्ते का प्रावधान गायब है. आरोप लगाया कि इस योजना के लिए किसी प्रकार का आधारभूत ढांचा भी विकसित नहीं किया गया. उन्होंने कहा कि इन स्थानों पर गरीबों के सामाजिक व पारिवारिक कार्यक्रमों के लिए बनाए गए सामुदायिक भवनों व सर्दी से बचाव के लिए रैन बसेरों का इस्तेमाल कर गरीबों के साथ अन्याय किया है. चतुर्वेदी ने इस योजना में नाश्ते के भी प्रावधान करने एवं सामुदायिक भवनों को इस योजना से मुक्त करने की मांग की है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें