राजस्थान में दलित हत्या को लेकर ट्वीटर पर भिड़े गहलोत के OSD और योगी के सलाहकार

Nawab Ali, Last updated: Thu, 14th Oct 2021, 11:26 AM IST
  • राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा और सीएम योगी आदित्यनाथ के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ट्वीटर पर भिड़ गए. लोकेश शर्मा ने सीएम योगी के सलाहकार पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया है.
फाइल फोटो.

जयपुर. राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में सीएम अशोक गहलोत की सरकार विपक्ष के निशाने पर है. राजस्थान में भाजपा दलित युवक की हत्या पर अशोक गहलोत पर जमकर निशाना साध रही है. युवक की हत्या को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा ट्वीटर पर भिड़ गये. लोकेश शर्मा ने शलभ त्रिपाठी पर झूठ का आरोप लगाया हा. 

हनुमानगढ़ में दलित युवक की हत्या को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है. अशोक गहलोत सरकार पर भाजपा हमलावर है जिस कारण सीएम योगी आदित्यनाथ के सलाहकार ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की एक 13 सेकंड की वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है कि ईमानदारी से सच स्वीकार करने के लिए आभार आदरणीय अशोक गहलोत जी. सच ही कहा आपने. हर लाश पर महज वोटों की खेती करने वाले राजस्थान क्यूं जाएंगे भला. उनको तो केवल राजनीति करनी है, उनसे संवेदना की उम्मीद करना बेवकूफी ही तो है. इस ट्वीट पर लोकेश शर्मा ने लिखा है कि माननीय मुख्यमंत्री जी की पूरी बात ये है. महाशय आप उसका 13 सेकेंड का हिस्सा निकालकर गलत तथ्य पेश कर रहे हैं, आपसे आग्रह है कि कृपया झूठ न फैलाएं.

जिंदा व्यक्ति को मरा हुआ बताकर क्लेम उठाते थे ASI, डॉक्टर व वकील, हुआ भंडाफोड़

आपको बता दे कि हनुमानगढ़ की घटना पर सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि ये बेवकूफ लोग हैं. कोई बेवकूफों की कमी है क्या देश के अंदर? बीजेपी वाले बेवकूफ लोग प्रदेश के अंदर और बाहर बेवकूफी कर रहे हैं. बिना मतलब तुलना करते हैं. बार-बार कहते हैं कि प्रियंका गांधी जी को, राहुल गांधी जी को राजस्थान में क्यों नहीं आना चाहिए? राजस्थान में सरकार हमारी है. आप राजनाथ सिंह जी को कहो, आप अमित शाह जी को कहो, वो आकर देखें यहां पर, वो गृह मंत्री हैं. विपक्ष की सरकारें जहां हैं या सरकारें सत्तापक्ष की हैं यूपी हो चाहे वहां हम लोग जाएंगे, विपक्ष के लोग हैं हम लोग.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें