जयपुर नगर निगम में BJP का सूपड़ा साफ, 9 चेयरमैन कांग्रेस, एक निर्दलीय

Smart News Team, Last updated: Sun, 20th Dec 2020, 10:59 PM IST
  • हल ही में हुई जयपुर की नगर निगम की 10 सीटों पर चुनाव में भाजपा के कहते में एक भी सीट नहीं आई. वहीं कांग्रेस ने 10 में से 9 सीटों पर जीत हासिल किया है.
जयपुर नगर निगम चुनाव: 10 में से 9 पर कोंग्रस जीती, एक भी सीट नहीं निकाल पाई बीजेपी

जयपुर. इस बार के जयपुर में नगर पालिका चुनाव के 10 सीटों पर एक पर भी भाजपा की जीत नहीं हो पाई. इसमें से 9 नगर पालिका पर कांग्रेस ने तो 1 पर निर्दलीय ने जीत हासिल किया. वहीं पिछली बार हुए चुनाव में जयपुर की 10 में से 9 पर बीजेपी ने अपना बोर्ड बनाया था. इस बार के चुनाव में पूरा मामला उल्टा पड़ गया और अधिकतर पर कांग्रेस के चेयरमैन चुने गए.

शाहपुर और चौमूं नगर पालिका पर कांग्रेस ने 10 साल बाद जीत हासिल किया है. 10 में से 9 नगर पालिका में जीत मिलने के बाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जमकर आतिशबाजी और नारेबाजी किया. जयपुर के जिले चौमूं, रेनवाल, जोबनेर, फुलेरा, बगरू, चाकसू, सांभर लेक नगर पालिकाओं पर कुल 220 निर्वाचित पार्षदों ने चेयरमैन पद के लिए नामांकन किया था.

जयपुर : फिर बिछेगी चुनावी बिसात, 15 फरवरी तक 90 शहरी निकायों में चुनाव

शाहपुर में 10 सालों बाद कांग्रेस ने नगर निगम पर कब्जा जमा पाई है. यहां पर बंशीधर सैनी चेयरमैन बने है. वहीं विराट नगर में सुमिता सैनी को चेयरमैन की कुर्सी मिली. कोटपूतली नगर पालिका में कांग्रेस के पुष्पा सैनी ने जीत हासिल किया. उन्होंने पहली बार ये चुनाव लड़ा था. जिसमे उन्हें 19 वोट मिले. वहीं फुलेरा नगर निगम में कॉंग्रेस पार्षद संगीता अग्रवाल ने 14 वोट पाकर जीत गई.

जयपुर : राजस्थान रोडवेज की निगरानी अब जीपीएस से, लापरवाही पर होगी कार्रवाई

सम्भार नगर पालिका में कांग्रेस के बालकिशन ने 14 वोट पाकर बोर्ड के चेयरमैन बने. साथ ही किशनगढ़ रेनवाल नगर पालिका में कांग्रेस के ही अमित कुमार जैन बोर्ड के चेयरमैन चुने गए. वहीं निर्दलीय लड़ रहे मालूराम मीणा ने गरु नगर पालिका के बोर्ड चेयरमैन चुने गए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें