जयपुर के मानसरोवर इलाके में ढाबे पर खाना खाने आए युवक और युवती पर जानलेवा हमला

Smart News Team, Last updated: 13/12/2020 08:26 PM IST
  • जयपुर के मानसरोवर इलाके में नाइट कर्फ्यू की उड़ रही धज्जियां. देर रात बाइक सवार बदमाशों ने ढाबे पर खाना खाने आए युवक और युवती पर जानलेवा हमला किया गया. युवक करीब 10 मिनट तक बीच रोड पर घायल पड़ा रहा. फिर होश में आने पर खुद कार चलाकर घायल महिला मित्र को ले गया सवाई मान सिंह अस्पताल.  
सीसीटीवी में कैद मारपीट की घटना

जयपुर. कोरोना की रोकथाम करने के लिए जयपुर में नाइट कर्फ्यू  रात 8 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक लगाया गया है, लेकिन मानसरोवर इलाके में इसका कोई असर नहीं दिख रहा है. पुलिस की चेतक इलाके में नारायण विहार मोड़ के पास स्थित एक ढाबे को देर रात तक खुलने पर बंद करने की बजाय वहां आराम से खान-पान करती नजर आई. इसके दस मिनट बाद ही वहां बाइक सवार बदमाशों द्वारा ढाबे पर खाना खाने आए युवक और युवती पर जानलेवा हमला किया गया. युवक करीब 10 मिनट तक बीच रोड पर घायल पड़ा रहा. इस बीच कई वाहन युवक के पास से गुजरे, मगर न तो पुलिस आई और नही न ही एम्बुलेंस. आखिर में घायल युवक ने होश आने पर खुद ही कार चलाकर युवती को सवाई मान सिंह अस्पताल ले गया. 

दरअसल, ऋषि गालव नगर, गलता गेट निवासी अभिषेक सोनी रात को कहीं से आते समय अपनी महिला साथी के साथ नारायण विहार मोड़ स्थित जय माता दी स्पेशल दाल बाटी चूरमा ढाबा पर रुका. अपनी कार साइड में लगाकर खाने का आर्डर दिया. इस दौरान वहां बाइक सवार तीन लड़के आए और युवती को घूरकर अश्लील इशारे करने लगे. इसके बाद लड़के बदतमीजी पर उतर आए और युवती पर गंदे कमेंट करने लगे. अभिषेक ने इसका विरोध किया तो तीनों लड़के वहां से धमकी देकर चले गए. इसके दो मिनट बाद ही तीनों लड़के वापस आए और पास में पड़े लोहे के पटे से मारपीट शुरू कर दी. आरोपियों ने अभिषेक के सिर पर ताबड़तोड़ वार किए. बीच बचाव में युवती आई तो उसके सिर पर भी वार कर दिया. इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गए. 

शादी के बाद ससुराल आ रही थी नई बहू, रास्ते में घटी ऐसी घटना कि घर में छा गया मातम

अधमरी हालत में अभिषेक ढाबे के बाहर करीब दस मिनट तक पड़ा रहा. इस दौरान वहां से कई गाड़िया गुजरी, यहां तक कि ढाबे पर खड़े लोग तमाशा देखते रहे, लेकिन किसी ने भी मदद करने की जहमत नहीं उठाई. पुलिस और एम्बुलेंस को कॉल करने के बावजूद वहां काफी देर तक कोई नहीं आया. दस मिनट बाद अभिषेक को होश आया तो वह घायल युवती को  साथ लेकर खुद ही कार चलाकर सवाई मान सिंह अस्पताल के ट्रॉमा वार्ड पहुंचा. वहां पहुंचते ही वह बेहोश हो गया. हमले में अभिषेक का सिर बुरी तरह फटा है, वहीं युवती के सिर में भी कई टांके आए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें