दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल दस दिन की मौन साधना करने जयपुर पहुंचे

ABHINAV AZAD, Last updated: Thu, 2nd Sep 2021, 11:50 AM IST
  • मुख्यमंत्री केजरीवाल आगरा रोड पर स्थित विपश्यना ध्यान केंद्र में ठहरे हैं. वह अगले दस दिनों तक यहां रहकर साधना करेंगे. विपश्यना ध्यान केन्द्र के नियम कायदे काफी सख्त हैं. इस वजह से वह किसी से मिल नहीं रहे हैं और अपनी साधना में लीन हैं.
CM केजरीवाल जयपुर के विपश्यना ध्यान केन्द्र में 10 दिनों तक साधना करेंगे.

जयपुर. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इन दिनों जयपुर में हैं. दरअसल, वह यहां मौन साधना कर रहे हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री केजरीवाल आगरा रोड पर स्थित विपश्यना ध्यान केंद्र में ठहरे हैं. वह अगले दस दिनों तक यहां रहकर साधना करेंगे. विपश्यना ध्यान केन्द्र के नियम कायदे काफी सख्त हैं. इस वजह से वह किसी से मिल नहीं रहे हैं और अपनी साधना में लीन हैं. गौरतलब है कि यह विपश्यना ध्यान केन्द्र घने जंगल में स्थित है. इस विपश्यना ध्यान केन्द्र में आम लोगों की नो इंट्री है.

मिली जानकारी के मुताबिक, सीएम केजरीवाल रविवार दोपहर जयपुर आए थे. यहां आने के बाद वह कुछ समय सर्किट हाउस में ठहरने के बाद गलताजी स्थित विपश्यना केंद्र चले गये. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर ध्यान साधना के लिए केजरीवाल के जयपुर आने पर उनका स्वागत किया. सीएम गहलोत ने अपने ट्वीट में लिखा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का जयपुर आगमन पर स्वागत करता हूं. आपने मेरे स्वास्थ्य की जानकारी लेकर शुभेच्छाएं दीं. इसके लिए आपका धन्यवाद. मुझे खुशी है कि आपने विपश्यना एवं स्वास्थ्य लाभ के लिए राजस्थान को चुना. मैं आपके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं.

टोक्यो पैरालंपिक में पदक जीतने के बाद गहलोत सरकार इन खिलाड़ियों को देगी करोड़ों इनामी राशि

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीएम केजरीवाल इस विपश्यना केन्द्र में सभी वीवीआईपी सुविधाओं से दूर हैं और एक साधक की तरह आम जिंदगी जी रहे हैं. दरअसल, साधना केन्द्र में दिनचर्या तड़के 4 बजे ही शुरू हो जाती है. साथ ही बताते चलें कि इस 10 दिन की साधना के पूरे शिड्यूल में साधक का बोलना भी पूरी तरह से मना होता है. केन्द्र से जुड़े लोग बताते हैं कि इस दौरान अलग-अलग सेशन होते हैं. सीएम केजरीवाल उन सेशन को ज्वॉइन कर रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें