कोर्ट पर हावी कोरोना : अब व्हाट्सएप व वीसी से होगी जरूरी मुकदमों की सुनवाई

Smart News Team, Last updated: 15/09/2020 10:06 AM IST
  • जयपुर सहित सभी ट्रायल कोर्ट की सुनवाई अब व्हाट्सएप व वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए 15 सितंबर से एक अक्टूबर तक की जाएगी. बार एसोसिएशन जयपुर के अध्यक्ष व महासचिव ने हाईकोर्ट के सीजे से सोमवार की शाम को मुलाकात किया और कोर्ट में कोरोना संक्रमण व इससे केसों की सुनवाई में हो रही परेशानी से अवगत कराया था.
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर| लगातार बढ़ रहे संक्रमण को रोकने के लिए जयपुर सहित सभी ट्रायल कोर्ट की सुनवाई अब व्हाट्सएप व वीसी के जरिए 15 सितंबर से एक अक्टूबर तक की जाएगी. हाईकोर्ट की अदालतों ने संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए यह आदेश जारी किए. साथ ही कहा कि हर कोर्ट में ऑल इन वन कंप्यूटर्स व स्मार्टफोन की व्यवस्था की जाए. न्यायिक रिमांड इत्यादि वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए ही दी जाएगी.

आपराधिक केसों के अधिवक्ता दीपक चौहान, बार एसोसिएशन जयपुर के पूर्व महासचिव संदीप लोहारिया, पूर्व उपाध्यक्ष महेश दत्तात्रेय, अधिवक्ता विकास सोमनी सहित अन्य लोगों ने ट्रायल कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई किए जाने की मांग की थी. अधिवक्ताओं का कहना था जब हाईकोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई हो रही है तो ट्रायल कोर्ट में क्यों नहीं. कोर्ट परिसर में व्यक्तिगत उपस्थित से कोरोना संक्रमित होने का खतरा है. बार एसोसिएशन जयपुर के अध्यक्ष अनिल चौधरी व महासचिव सतीश शर्मा ने हाईकोर्ट के सीजे इंद्रजीत महान्ति से सोमवार शाम मुलाकात की और उन्होंने कोर्ट में कोरोना संक्रमण व इससे केसों की सुनवाई में हो रही परेशानी से अवगत कराया था.

जयपुर: पूर्व उपमुख्यमंत्री सहित दो पूर्व मंत्रियों को खाली करना होगा बंगला!

अधिवक्ताओं द्वारा की गई मांग पर ट्रायल कोर्ट ने गंभीरता से विचार किया और उनकी मांगों को मानते हुए वीसी व व्हाट्सएप के जरिए सुनवाई किए जाने के निर्देश जारी कर दिए. अधिवक्ताओं ने न्यायालय के समक्ष अपना यह तर्क रखा था कि इस संक्रमण से कई न्यायिक अफसर अधिवक्ता व अन्य लोग भी संक्रमित हो चुके हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें