Omicron Variant: राजस्थान में गृह विभाग के नाम से जारी फेक आदेश वायरल, फिर...

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 6th Dec 2021, 11:56 AM IST
  • राजस्थान गृह विभाग के नाम से जारी इस फेक आदेश में कहा गया है कि राजस्थान सरकार के निर्देशानुसार राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सभी शैक्षणिक संस्थान, कोचिंग 6 दिसम्बर 2021 से आगामी आदेश तक बंद रहेंगे.
(प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर. राजस्थान में कोरोना का नए वैरिएंट ओमीक्रॉन तेजी फैल रहा है. इस बीच सोमवार को एक फेक आदेश को लेकर सनसनी फैल गई. साथ ही कई संस्थानों ने तो फेक न्यूज को सच मानते हुए छुट्टी तक कर डाली. दरअसल, सोशल मीडिया पर सोमवार को एक फेक आदेश वायरल हो गया. इस फेक आदेश में कहा गया है कि राजस्थान सरकार के निर्देशानुसार राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सभी शैक्षणिक संस्थान, कोचिंग 6 दिसम्बर 2021 से आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे.

साथ ही गृह (ग्रुप-9) विभाग के नाम से जारी इस फेक आदेश में एन.एल मीणा के साइन थे. जबकि मीणा के स्थान पर वर्तमान में इस पद पर सुरेश गुप्ता हैं. इस फेक न्यूज के बाद सेंट जेवियर जैसे संस्थान ने इसे सही मान लिया और बच्चों को वापस घर भेज दिया. साथ ही यह फेक आदेश सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया. साथ ही गृह (ग्रुप-9) विभाग के नाम से जारी इस फेक आदेश में राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सभी शैक्षणिक संस्थानों कोचिंगों को 6 दिसम्बर 2021 से आगामी आदेशों तक बंद होने की बात कही गई है.

राजस्थान में एक परिवार के 9 सदस्यों को कोरोना ओमिक्रॉन, Omicron मरीजों की संख्या हुई 22

मिली जानकारी के मुताबिक, सेंट जेवियर समेत कई संस्थानों ने इस आदेश को सही मान लिया. नतीजतन, कई अन्य संस्थानों को भी इस आदेश के बाद परेशानी का सामना करना पड़ा. दरअसल, यह फेक न्यूज इतनी तेजी से वायरल होने लगा कि लोग एक-दूसरे को मोबाइल पर फॉरवर्ड करने लगे. साथ ही लोग इस आदेश की फैक्ट चेक करने में जुट गए. बताते चलें कि सोशल मीडिया पर सोमवार को एक फेक आदेश वायरल हो गया. इस फेक आदेश में कहा गया है कि राजस्थान सरकार के निर्देशानुसार राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सभी शैक्षणिक संस्थानों कोचिंगों को 6 दिसम्बर 2021 से आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे. कई संस्थानों ने तो फेक न्यूज को सच मानते हुए छुट्टी तक कर डाली.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें