जयपुर : फेसबुक पर दोस्ती का झांसा दे कर पार किए 31 लाख

Smart News Team, Last updated: 03/08/2020 01:12 AM IST
  • जयपुर दोस्ती एक ऐसा रिश्ता होता है जिसे एक इंसान खुद अपनी मर्जी से बनाता है बाकि सारे रिश्ते नाते आपके जन्म होने के साथ-साथ अपने आप बन जाते है । दोस्त पर लोग आंख बंद कर के विश्वास कर सकते है। लेकिन अगर उसमें भी कोई आपके साथ धोका कर दें तो फिर उस दोस्ती पर कौन विश्वास करेगा।
प्रतीकात्मक तस्वीर 

जयपुर : दोस्ती एक ऐसा रिश्ता होता है जिसे एक इंसान खुद अपनी मर्जी से बनाता है बाकि सारे रिश्ते नाते आपके जन्म होने के साथ-साथ अपने आप बन जाते है । दोस्त पर लोग आंख बंद कर के विश्वास कर सकते है। लेकिन अगर उसमें भी कोई आपके साथ धोका कर दें तो फिर उस दोस्ती पर कौन विश्वास करेगा। आजकल फेसबुक या अन्य सोशल मीडिया पर दोस्ती कर पैसो की ठगी के मामले बहुत सामने आ रहे है। ऐसा ही एक मामला जयपुर के वैशाली नगर में फेसबुक पर दोस्ती कर एक युवती ने बुजुर्ग के खाते से करीब 31 लाख रुपए निकाल लिए। आनलाइन ठगी की इस वारदात में आरोपी युवती अभी तक अज्ञात बताई जा रही है।

आपको बता दें कि पिछले माह फर्जी आईडी के जरिए एक युवती ने फेसबुक पर पीड़ित को दोस्ती के जाल में फांसाया । एक दिन युवती ने फेसबुक पर बुजुर्ग को बातो में फसा कर उससे बैंक डिटेल और मोबाइल नंबर, पिन और ओटीपी नंबर भी पूछ लिए। मोबाइल पर ही बुजुर्ग ने युवती को सारी जानकारी दे दी। कुछ ही देर में उसके पास बैंक से मैसेज आया कि खाते से 30 लाख 88 हजार रुपए निकल गए। मैसेज देखते ही बुजुर्ग के होश उड़ गए। उसने तत्काल बैंक खाता बंद करवाया। बुजुर्ग ने वैशाली नगर थाने में मामला दर्ज करवाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

वहीं मालवीय नगर में भी परिचित की आवाज में बात करके एक अन्य व्यक्ति को भी ठगी का शिकार बना लिया। बताया जा रहा है कि वारदात का शिकार समीर दरबारी के पास मोबाइल पर कॉल आया था। सामने वाला उसके परिचित की तरह बात कर रहा था। आरोपी ने उसे व्हाट्सऐप पर लिकं भेज खोलने को कहा। उसके बाद ओटीपी बताने का झांसा दिया। जैसे ही पीड़ित ने ओटीपी की जानकारी दी उसके खाते से 1 लाख रुपए निकल गए। पीड़ित समीर ने तुरंत थाने में सोशल मीडिया पर ठगी का मामला दर्ज करवाया।

अन्य खबरें