कृषि बिलों के खिलाफ किसानों ने दिल्ली-जयपुर हाईवे समेत कई राजमार्गों को किया जाम

Smart News Team, Last updated: Sun, 7th Feb 2021, 3:19 PM IST
  • कृषि कानूनों के विरोध में शनिवार को किसान संगठनों ने धरना प्रदर्शन किया. इंटरनेट सेवाएं बाधित कर लोगों के परेशान किए जाने के खिलाफ दिल्ली-जयपुर हाईवे को पूरी तरह से तीन घंटे तक जाम कर दिया गया. 
वाराणसी-रोहनिया क्षेत्र से गुजर रहे एसएसपी शनिवार को भीषण जाम में फंस गए.

जयपुर. कृषि कानूनों के विरोध में शनिवार को देशभर में चक्का जाम किया गया. इस बीच करीब 12 बजे से दोपहर 3 बजे तक सभी जगहों और इलाकों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया. बता दें, किसानों ने नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर, धरना-स्थल पर इंटरनेट बंद करने एवं अधिकारियों द्वारा कथित तौर पर परेशान किए जाने के खिलाफ चक्का जाम किया. इस दौरान तीन घंटों के लिए दिल्ली-जयपुर हाईवे समेत कई प्रमुख राजमार्गों पर यातायात को रोका गया.

बता दें, कांग्रेस पार्टी किसानों का समर्थन कर रही है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आदेशानुसार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह दोतासरा ने शुक्रवार को चक्का जाम को पूरी तरह सफल बनाने के लिए सभी पदाधिकारियों को सहयोग करने का निर्देश दिया था. इसके बाद बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता चक्का जाम करने के लिए सड़कों पर उतर आए. लगभग 12 बजे प्रदर्शन शुरू हुआ. जयपुर में सड़कों पर ट्रैफिक जाम करने के लिए ट्रैक्टरों का जमावड़ा किया गया.

जयपुर: जैन मंदिर में घुसे हथियारबंद बदमाश, लूटी अष्टधातु की चार मूर्तियां

इस दौरान दिल्ली-जयपुर राजमार्ग को पूरी तरह ब्लॉक कर दिया गया था. सुबह 11 बजे से ही शाहजहांपुर बॉर्डर (अलवर) से गुजरने वाली सड़क को बंद कर दिया गया था. राजस्थान में किसानों के चक्का जाम को सफल बनाने के लिए कई संगठनों ने अपना समर्थन दिया. गौर हो कि कृषि बिलों के साथ-साथ सरकार की ओर से इंटरनेट सेवाएं बंद कर परेशान किए जाने के खिलाफ चक्का जाम किया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें