जयपुर: सेना के दो अधिकारियों में हुई लड़ाई, कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश

Smart News Team, Last updated: 04/02/2021 07:31 PM IST
  • जयपुर में सेना के दो वरिष्ठ अधिकारियों के बीच मतभेद इतने बढ़ गए की उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत कर दी.
सेना के दो अधिकारियों में हुई लड़ाई (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जयपुर में सेना के दो वरिष्ठ अधिकारियों के बीच मतभेद इतने बढ़ गए की उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत कर दी. दरअशल, दक्षिण-पश्चिम कमान में तैनात इन दोनों अधिकारियों के बीच हुए झगड़े को लेकर सेना के उच्च स्तर से कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश दे दिए हैं. हालांकि कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश के बाद दोनों अधिकारियों ने एक-दूसरे के खिलाफ की गई शिकायत वापस ले ली.

मीडिया में चल रही रिपोर्ट्स के मुताबिक यह मामला दक्षिणी कमान के जीओसी इन सी और आर्मी कमांडर लेफ्टनेंट जनरल आलोक कलेर और चीफ ऑफ स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल केके रेपसवाल से जुड़ा हुआ है. मिली जानकारी के अनुसार कलेर के कामकाज के तरीकों से रेपसवाल संतुष्ट नहीं थे. इस पर उन्होंने सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकंद नरवणे को पत्र लिखकर शिकायत की. 

72 साल के बुजुर्ग से की थी 27 लाख की ठगी, साइबर एक्सपर्ट ने 4 घंटे में पकड़ा

इस पर केलर ने भी रेपसवाल के खिलाफ शिकायात भेज दी. दोनों के बीच समझाने का उच्च स्तर से प्रयास किया गया, लेकिन विवाद खत्म नहीं हुआ. इस पर सेनाध्यक्ष ने कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया. जिसके बाद जांच उप सेना प्रमुख ले. जनरल एसके सैनी को सौंपी गई. जांच सौंपते ही दोनों अधिकारियों ने एक-दूसरे के खिलाफ की गई शिकायत वापस ले ली.

 

जयपुर में सेना के दो वरिष्ठ अधिकारियों के बीच मतभेद इतने बढ़ गए की उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत कर दी. दरअशल, दक्षिण-पश्चिम कमान में तैनात इन दोनों अधिकारियों के बीच हुए झगड़े को लेकर सेना के उच्च स्तर से कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश दे दिए हैं. हालांकि कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश के बाद दोनों अधिकारियों ने एक-दूसरे के खिलाफ की गई शिकायत वापस ले ली.

मीडिया में चल रही रिपोर्ट्स के मुताबिक यह मामला दक्षिणी कमान के जीओसी इन सी और आर्मी कमांडर लेफ्टनेंट जनरल आलोक कलेर और चीफ ऑफ स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल केके रेपसवाल से जुड़ा हुआ है. मिली जानकारी के अनुसार कलेर के कामकाज के तरीकों से रेपसवाल संतुष्ट नहीं थे. इस पर उन्होंने सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकंद नरवणे को पत्र लिखकर शिकायत की. 

72 साल के बुजुर्ग से की थी 27 लाख की ठगी, साइबर एक्सपर्ट ने 4 घंटे में पकड़ा

इस पर केलर ने भी रेपसवाल के खिलाफ शिकायात भेज दी. दोनों के बीच समझाने का उच्च स्तर से प्रयास किया गया, लेकिन विवाद खत्म नहीं हुआ. इस पर सेनाध्यक्ष ने कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया. जिसके बाद जांच उप सेना प्रमुख ले. जनरल एसके सैनी को सौंपी गई. जांच सौंपते ही दोनों अधिकारियों ने एक-दूसरे के खिलाफ की गई शिकायत वापस ले ली.

 

|#+|

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें