जयपुर: मनीष सैनी समेत पांच बदमाश गिरफ्तार, लोगों को धमकाकर वसूलता था रंगदारी

Smart News Team, Last updated: Wed, 10th Feb 2021, 6:43 PM IST
  • जयपुर पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए गए गैंगस्टर मनीष सैनी पर 26 मामले दर्ज थे. कमिश्नरेट के क्लीन स्वीप मिशन के तहत क्राइम ब्रांच की यह बड़ी सफलता है. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है.
गला रेतकर हत्या करने के मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जयपुर. जयपुर में कमिश्नरेट के क्लीन स्वीप मिशन के तहत अब क्राइम ब्रांच को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. दरअसल, क्राइम ब्रांच की टीम ने गैंगस्टर मनीष सैनी समेत पांच बदमाशों को गिरफ्तार किया है. बता दें, गैंगस्टर मनीष सैनी लंबे समय से फरार चल रहा था. इस दौरान वह लोगों को धमकाकर उनसे रंगदारी वसूलने का काम कर रहा था. मनीष सैनी पर अलग-अलग थानों में कई मुकदमे दर्ज हैं. ऐसे में फिलहाल पकड़े गए सभी बदमाशों से पुलिस पूछताछ कर रही है.

इस मामले को लेकर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि 30 साल का गैंगस्टर मनीष सैनी, विनोवा बिहार माडल टाउनमालवीय नगर में रहता है, उसके भाई 26 साल के अक्षय सैनी, 30 साल के राकेश सैनी, 27 साल के चन्दन सिंह भाटी उर्फ सुरेन्द्र सिंह और 32 साल के उजागर सिंह को गिरफ्तार किया गया है. इन सभी को खोह नागोरियान इलाके से पकड़ा गया है. फिलहाल आरोपितों से पूछताछ के साथ ही गिरोह के अन्य बदमाश की तलाश और हथियार बरामदगी के प्रयास किए जा रहे है.

जयपुर: पिस्टल के दम पर लूटी टैक्सी कार, पुलिस कर रही मामले की छानबीन

बता दें, जयपुर जेल में बंद रहने के दौरान गैंगस्टर मनीष सैनी मोबाइल से गैंग को ऑपरेट करता था. जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद से ही मनीष ने अपनी गैंग को सक्रिय कर लिया. काफी लोगों को रंगदारी वसूली के लिए धमकाना शुरू कर दिया. इस दौरान आमेर, आदर्श नगर व मानसरोवर इलाके में जानलेवा हमले किए, जिसमें गैंगस्टर मनीष, अपने भाई अक्षय और चन्दन व राकेश के साथ शामिल था. मनीष सैनी के खिलाफ जयपुर शहर के पुलिस थानों में जानलेवा हमले, मारपीट, हत्या, हत्या का प्रयास व आम्र्स एक्ट के 26 मामले दर्ज हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें