जयपुर : शुरुआती दौर में 5 लाख लोगों को लगेगी वैक्सीन, रजिस्ट्रेशन शुरू

Smart News Team, Last updated: Wed, 6th Jan 2021, 4:12 PM IST
  • वैक्सीन लगाने की गाइडलाइन बनाई गई है. सबसे पहले हेल्थ वर्कर्स को ही लगाई जाएगी. उसके बाद सीनियर सिटीजन को. इसके लिए रजिस्ट्रेशन हो रहे हैं. जब भी कोई वैक्सीनेशन के लिए जाएगा, उसका कोड भी जनरेट होगा ताकि वह रिपीट न हो. अभी तक के गाइडलाइन में यह बिना शुल्क ही लगेगा.
सांकेतिक फोटो

जयपुर. कोविड वैक्सीन को लेकर चिकित्सा विभाग की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. आम लोगों को भी वैक्सीन के आने का इंतजार है. केंद्र सरकार 15 जनवरी तक को-वैक्सीन की शुरुआत करने की कह चुकी है. राजस्थान में इसको लेकर तैयारियां हो चुकी हैं. केंद्र से प्रारंभिक तौर पर प्रदेश को 5 लाख वैक्सीन मिलने की संभावना है. इसके बाद जयपुर के मुख्य सेंटर (सीएमएचओ) पर वैक्सीन आएगी और फिर यहां से अन्य केंद्रों पर भेजी जाएगी. यहां तीन कक्षों में वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया होगी. वैक्सीन लगाने के लिए पहले हेल्थ वर्कर्स की रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुकी है. वैक्सीन लगाने का काम तीन कक्षों में किया जाएगा. 

पहले कक्ष में वेटिंग एरिया, दूसरे में वेक्सीनेशन और तीसरे में वैक्सीन के बाद लोगों को रखा जाएगा. यहां वैक्सीन कराने वाले लोगों में साइड इफेक्ट की जानकारी ली लाएगी. इसके लिए पूरी मेडिकल टीम का गठन भी किया गया है. जहां वैक्सीनेशन होगा, वहां का ट्रायल भी किया जा चुका है. मेडिकल कॉलेज, जिला-सेटेलाइट अस्पतालों के हेल्थ वॉरियर्स को उन्हीं अस्पतालों में टीका लगाया जाएगा. बड़े निजी अस्पतालों के स्टाफ को वैक्सीन लगाने का काम वहीं बनाए गए सेंटर पर होगा. छोटे निजी अस्पताल या नर्सिंग होम्स के के स्टाफ को निजी या गर्वमेंट अस्पताल में बनाए गए सेंटर पर वैक्सीन लगाई जाएगी. वैक्सीन सबसे पहले हेल्थ वर्कर्स (डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ, लैब टेक्नीशियन, रेडियोग्राफर) व कोरोना से जुड़े वे सभी वर्कर्स जो लंबे समय से डयूटी दे रहे हैं, को वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके बाद 60 साल से अधिक उम्र के उन लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी, जिन्हें डायबिटीज, कार्डियो, बीपी या अन्य बीमारियां हैं. इसके बाद सामान्य लोगों को वैक्सीन लागाया जाएगा. 

सवाई मान सिंह अस्पताल में मरीज की मौत से गुस्साए परिजनों ने की तोड़फोड़

वैक्सीन लगाने की गाइडलाइन बनाई गई है. सबसे पहले हेल्थ वर्कर्स को ही लगाई जाएगी. उसके बाद सीनियर सिटीजन को. इसके लिए रजिस्ट्रेशन हो रहे हैं. जब भी कोई वैक्सीनेशन के लिए जाएगा, उसका कोड भी जनरेट होगा ताकि वह रिपीट न हो. अभी तक के गाइडलाइन में यह बिना शुल्क ही लगेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें