जयपुर : लिफ्ट देकर करते थे लूटपाट, सरगना सहित चार बदमाश गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: Fri, 1st Jan 2021, 7:09 PM IST
  • पुलिस ने बदमाशों के पास से एक पिस्टल, एक देसी कट्टा, चार जिंदा कारतूस और चार खाली कारतूस बरामद किया है. उन्होंने पूछताछ में राजस्थान और उत्तर प्रदेश में करीब 25 से ज्यादा वारदातों का खुलासा किया है. राहगीरों को लिफ्ट देने के बहाने कार में बैठाकर सुनसान जगह ले जाकर हथियार दिखाकर लूट लेते थे.
पुलिस गिरफ्त में आरोपी

जयपुर. विश्वकर्मा थाना पुलिस और जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम (सीएसटी) ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए लिफ्ट देकर लूटपाट करने वाले गिरोह का खुलासा किया है. पुलिस ने गिरोह के सरगना सहित चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बदमाशों के पास से एक पिस्टल, एक देसी कट्टा, चार जिंदा कारतूस और चार खाली कारतूस बरामद किया है. उन्होंने पूछताछ में राजस्थान और उत्तर प्रदेश में करीब 25 से ज्यादा वारदातों का खुलासा किया है. 

अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सुलेश चौधरी ने बताया कि विश्वकर्मा थाना पुलिस और जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम (सीएसटी) ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए अंतरराज्यीय लूट गिरोह के बदमाश संजय चौधरी निवासी गांव भैसाना भूसावर जिला भरतपुर, सुनील कुमार शर्मा उर्फ लवली निवासी सिखनौदा थाना उच्चैन, तहसील रूपबास भरतपुर, वेदप्रकाश सैनी उर्फ राजू निवासी औमेक्स सिटी, बड का बालाजी, अजमेर रोड बगरू और रविन्द्र उर्फ राजू चौधरी निवासी गांव भैसिना जिला भरतपुर हॉल शान्ति नगर-बी, गुर्जर की महेश नगर को गिरफ्तार किया गया है. उनसे एक पिस्टल, एक देसी कट्टा, चार जिंदा कारतूस और चार खाली कारतूस बरामद किया गया है. बदमाशों से पुछताछ में सामने आया है कि वह राहगीरों को लिफ्ट देने के बहाने कार में बैठाकर सुनसान जगह ले जाकर हथियार दिखाकर उनके पास से पैसे, मोबाइल, पर्स, अंगूठी, चेन छीन लेते हैं एवं डरा धमकाकर एटीएम से भी पैसे निकलवा लेते हैं. इस गिरोह ने अपनी कार का नंबर बदल-बदल कर लूट की वारदातों को अंजाम दिया है. 

वाहन मालिकों को फिलहाल राहत, फास्टैग की डेडलाइन सरकार ने 15 फरवरी तक बढ़ाई

ये लोग जयपुर शहर, भरतपुर एवं उत्तरप्रदेश में करीब 25 वारदातों को अंजाम दे चुके हैं. इस गिरोह का मुख्य सरगना संजय चौधरी है, जो मूलतः भरतपुर का रहने वाला है. इसके अलावा सुनील कुमार उर्फ लवली उर्फ सुशील जो सांगानेर सदर इलाके में जानलेवा हमले में वांछित चल रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें