मॉब लिंचिंग: राजस्थान में भीड़ ने दलित युवक को पीट-पीट कर मार डाला, BJP ने गहलोत सरकार को घेरा

Ankul Kaushik, Last updated: Mon, 20th Sep 2021, 6:33 PM IST
  • राजस्थान के अलवर में फिर से एक मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है. यहां पर भीड़ ने नाबालिग दलित युवक को घेरकर पीटा और इस युवक की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई है. वहीं इस मामले को लेकर राजस्थान में सियासत शुरू हो गई है.
राजस्थान में दलित युवक को भीड़ ने पीटा (फाइल फोटो)

जयपुर. राजस्थान के अलवर में एक मॉब लिंचिंग की घटना हुई है. जानकारी के अनुसार एक युवक बाइक से जा रहा था और रास्ते के गड्डे बचाते समय उसकी बाइक एक महिला से टकरा गई. इसके बाद उस युवक को भीड़ ने रोक लिया और फिर उसे घेरकर पीटा. भीड़ द्वारा की गई पिटाई से युवक काफी घायल हो गया और उसे जयपुर के अस्पताल में भर्ती किया गया. युवक को इतनी बुरी तरह से पीटा था कि वह कोमा में चला गया था और तीन दिन बाद उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. इस घटना को लेकर पुलिस ने 6 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. वहीं इस मामले को लेकर राजस्थान की गहलोत सरकार पर बीजेपी हमलावर है. इसके साथ ही युवक के गांव वालों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए परिवार के भरण पोषण के लिए 30 लाख रुपये की आर्थिक मदद की मांग की है.

बता दें यह पूरा मामला अलवर जिले के बड़ौदामेव के मीना का बास इलाके का है. यह घटना सितंबर की बताई जा रहा है, भटपुरा के रहने वाले योगेश बाइक से गांव जा रहा था. इस दौरान रास्ते के गड्ढे को बचाते समय उसकी बाइक महिला से टकरा गई और इस बात पर भीड़ ने रास्ता रोक कर युवक की बेरहमी से पिटाई की. इस युवक को वहां मौजूद स्थानीय लोगों ने किसी तरह से उस भीड़ से बचाया.

मॉब लिंचिंग को रोकने के लिए रांची पुलिस ने जारी किए पोस्टर्स, कहा कानून को अपने हाथ में न लें

युवक की मौत के बाद मृतक के पिता की रसीद, साजेत पठान, मुबीना, और अन्य 4 लोगों के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी. पुलिस को दी गई शिकायत में युवक के परिजनों ने बताया कि उनके बेटे की लाठी और डंडो से जमकर पिटाई की. वहीं पुलिस के अनुसार दोनों पक्षों ने बड़ौदामेव थाने में एक्सीडेंट ओर मारपीट का मामला 17 सितम्बर को दर्ज कराया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें