IND vs NZ Match: राजस्थान में बढ़ते कोरोना के बीच फुल स्टेडियम मैच पर सियासत

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 17th Nov 2021, 2:27 PM IST
  • राजस्थान में लगातार बढ़ते कोरोना मामलों के बीच जयपुर में बुधवार को होने जा रहे इंडिया बनाम न्यूजीलैंड मैच में फुल कैपेसिटी को लेकर भाजपा ने गहलोत सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने आरोप लगाया कि अशोक गहलोत अपने बेटे की वजह से सारे नियमों को ताक में रखकर पूरे राजस्थान को मौत के कुएं में डाल रहे हैं. 
IND vs NZ Match:राजस्थान में बढ़ते कोरोना के बीच मैच को लेकर BJP सरकार पर हमलावर

जयपुर. राजस्थान की राजधानी में बुधवार को भारत न्यूजीलैंड के बीच टी 20 सीरीज का पहला मैच होना है, लेकिन इस मैच से पहले ही राजनीतिक पिच पर विपक्ष ने गहलोत सरकार को घेरने शुरू कर दिया है. दरअसल, भाजपा का आरोप है कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते केस के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फुल कैपेसिटी के साथ मैच होने की अनुमति दे दी है.जिससे प्रदेश में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है.

बता दें कि प्रदेश की अशोक गहलोत की सरकार ने सवाई मान सिंह स्टेडियम में फुल फैपेसिटी के साथ मैच होने की अनुमति दी है हालांकि सरकार ने इस दौरान कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के निर्देश भी दिए हैं.

राजस्थान सरकार ने VAT में की कटौती, पेट्रोल 4 और डीजल 5 रुपए प्रति लीटर सस्ता

राज्य में 74 और जयपुर में अकेले 54 से अधिक एक्टिव केस

बता दें कि राज्य में कोरोना की स्थिति के बात करें तो प्रदेश भर में 74 से अधिक कोरोना के मामले सक्रिय हैं. सिर्फ राजधानी जयपुर में कोरोना के 54 मामले एक्टिव हैं. वहीं, कई लोग में कोरोना के लक्षण देखे गए हैं जो जांच नहीं करवा रहे हैं जिससे मामलों की संख्या में अंतर है.

पुत्र मोह में लोगों की सुरक्षा को सीएम ने रखा ताक पर

भाजपा के प्रदेश मंत्री व पूर्व संसदीय सचिव जितेंद्र गोठवाल ने सीएम अशोक गहलोत पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सिर्फ पुत्रमोह में सभी की सुरक्षा ताक में रखकर नियमों की अनदेखी कर कैपेसिटी के बराबर मैच करवाने की अनुमति दे दी है. आरसीए (राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन) का चेयरमैन खुद उनका बेटा वैभव गहलोत है. जिसके चलते उन्होंने कोरोना के खतरे को नजरअंदाज किया.

हरियाणा के सुल्तान भैंसे की टक्कर का है राजस्थान का भीम, मालिक ने 24 करोड़ में भी नहीं बेचा..

स्कूल में दो छात्र संक्रमित होने पर बंद स्कूल तो मैच को अनुमति क्यों

मैच में स्टेडियम में 100 फीसदी क्षमता के साथ मैच करवाने को लेकर भाजपा ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब स्कूली छात्र कोरोना की चपेट में आए तो अगले 4 दिनों के लिए स्कूल में ऑफलाइन पढ़ाई बंद कर दी गई. वहीं, मैंच में 100 फीसदी दर्शकों के साथ मैच करवाने की अनुमति क्यों दी गई.

ऑनलाइन टोकन टिकट मिल रही ऑफलाइन

मैच की ऑनलाइन टिकट सिर्फ बुक होकर एक टोकन मिल जा रहा है, बाकी टिकट लेने ऑफलाइन ही जाना पड़ रहा है. इसके चलते स्टेडियम के बाहर हार्ड कॉपी लेने के लिए दर्शकों की काफी लंबी लाइन लगी हुई है. जहां पर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन तक नहीं होता दिख रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें