जयपुर: कोरोना संक्रमितों पर बड़ी लापरवाही, 36 संक्रमितों के नाम व पता ही गलत

Smart News Team, Last updated: Sat, 12th Sep 2020, 8:26 PM IST
  • जयपुर सहित प्रदेश में जारी कोरोना संक्रमण में अधिकारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है. चिकित्सा विभाग के अफसरों के पास दर्ज 36 संक्रमितों के नाम पते ही गलत है. लेकिन कोई सुध नहीं ले रहा है.
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर में बढ़ रहे मरीजों की संख्या के हिसाब से यह कहना गलत नहीं होगा कि यहाँ कोरोना बेकाबू हो गया है. जिसका असर ये हो रहा है कि बड़े-बड़े सरकारी व निजी अस्पतालों में मरीजों को बेड नहीं मिलने से वे इधर-उधर भटक रहे हैं. मरीज जिस अस्पताल में भी जाते हैं वहाँ बेड खाली नहीं होने की बात सामने आ रही है.

कभी मानसरोवर तो कभी मालवीय नगर-सांगानेर में कोरोना का ग्राफ बढ़ा है. अब तक जयपुर में 14 हजार 322 में से 295 लोगों ने दम तोड़ा है. एक्टिव केस बढ़कर अब 5128 हो गए हैं. वहीं 36 मरीज ऐसे मिले हैं, जिनका नाम-पता ही सही नहीं लिखा हुआ. अब सीएमएचओ को खासी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

चिकित्सा विभाग ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए अधिकारियों और आमजन से अपील जारी किया है। इस अपील में कहा कि अगर अपने शहर को और खुद को बचाना है तो पूरी सावधानी बरतें. वहीं कोरोना मरीजों का नाम-पता और मोबाइल नंबर सही नहीं लिखे होने से कान्टेक्ट ट्रेसिंग में दिक्कत हो रही है. बिना लक्षण वाले मरीजों की संख्या इन दिनों अधिक हो रही है. कई लोग बिना काम घर के अंदर न रहकर बाहर निकल रहे हैं. सोशल डिस्टेसिंग का पालना नहीं हो रहा है. ना ही लोग मास्क लगा रहे है. सीरों-सर्वे भी नहीं किया जा रहा है. 

जयपुर: नीट, जेईई एडवांस्ड परीक्षाएं देंगे 8 लाख छात्र, नीट एग्जाम कल

सर्वे से इससे कितनी फीसदी आबादी में एंटीबॉडी है उसका आसानी से पता लग सकता है.अगर ऐसे ही आंकड़े छिपाते रहे, तो हर जिले में निंयत्रण की बजाय कोरोना के आंकड़ों में वृद्धि होगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें