जयपुर: पढ़ाई के नाम पर बच्चों से कराई जा रही थी मजदूरी, एक्शन में आई पुलिस

Smart News Team, Last updated: 19/11/2020 10:48 PM IST
  • जयपुर में बच्चों से पढ़ाई के नाम पर बालश्रम करवाने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि पढ़ाई के नाम पर यहां बच्चों को बिहार और बंगाल से लाया जा रहा है और उन्हें बालश्रम की और धकेला जा रहा है.
जयपुर में बच्चों से पढ़ाई के नाम पर बालश्रम करवाने का मामला सामने आया

जयपुर: जयपुर में बच्चों से पढ़ाई के नाम पर बालश्रम करवाने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि पढ़ाई के नाम पर यहां बच्चों को बिहार और बंगाल से लाया जा रहा है और उन्हें बाल श्रम की और धकेला जा रहा है. हालांकि, जयपुर पुलिस इस मामले को लेकर एक्शन लेने की तैयारी कर रही है. रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस द्वारा मामले की शुरुआत भट्टा बस्ती क्षेत्र से कर दी गई है. पुलिस ने चाइल्ड हैल्प लाइन की मदद से भट्टा बस्ती में दो बड़े चूड़ी कारोबारियों को भी पकड़ने की तैयारी कर ली है.

पुलिस ने इस मामले में बात करते हुए कहा कि बालश्रम को लेकर कारोबारी मुन्ना और राजा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. बालश्रम को लेकर जहां एक मुकमदा भट्टा बस्ती थाने के एसआई और दूसरा मुकदमा चाइल्ड हैल्प लाइन की टीम ने दर्ज कराया है. पुलिस के मुताबिक दोनों कारोबारियों के यहां कई बच्चे काम करते हुए पाए गए हैं. हालांकि, सूचना मिलते ही पुलिस ने यहां दबिश दी और कई बच्चों को आजाद भी करवाया है.

दुष्कर्म आरोपी ने महिला के साथ परिवार को भी की थी जलाने की कोशिश

पुलिस के अनुसार बच्चों से जबरन काम कराया जा रहा था. खुद बच्चों ने पुलिस को बताया है कि उनके माता-पिता के पास कुछ लोग आए और उन्हें पढ़ाने व काम सिखाने के नाम पर यहां लेकर आए. बच्चों के मुताबिक यहां लाकर बच्चों को कैद कर दिया गया और करीब बारह से चौदह घंटों तक उनसे काम कराया गया. इतना ही नहीं, बच्चों को बाहर तक नहीं निकलने दिया गया. पुलिस ने बताया कि जब बच्चों ने दोबारा बिहार जाने की बात की तो उन्हें मारा-पीटा भी गया और उनके परिजनों से भी बात करानी बंद कर दी गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें