जयपुर: तालकटोरा के विकास की रूपरेखा तैयार, 18 करोड़ से होगा कार्य

Smart News Team, Last updated: 29/08/2020 11:46 AM IST
  • जयपुर के ऐतिहासिक तालकटोरा स्थान को और भी विकसित किए जाने के उद्देश्य से सरकार द्वारा 18 करोड़ के टेंडर पास कर दिए गए हैं. अब इसमें सिर्फ एमडी स्तर पर अप्रूवल होना बाकी है. अप्रूवल मिलते ही विकास कार्य प्रारंभ करा दिए जाएंगे.
तालकटोरा

जयपुर: काफी लंबे समय से तालकटोरा को अपने विकास की दरकार थी और इस बार सरकार ने इस ओर ध्यान देते हुए इसका चौमुखी विकास कराए जाने की रूपरेखा तैयार कर ली है. आरटीडीएस ने इस जगह पर कार्य करने के लिए 18 करोड़ के टेंडर किए हैं. इन टेंडरों को एमडी स्तर पर अप्रूवल होना सिर्फ बाकी रह गया है. जैसे ही यह अप्रूवल मिल जाता है तो तालकटोरा पर कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा. हालांकि जो टेंडर किए गए हैं वह करीब 28% नीचे दरों के हैं ऐसे में यह फाइनल होते हैं तो फर्म से काम की गुणवत्ता और बिना किसी एक्सेस वर्क के काम कराना चैलेंज रहेगा. यहां यह बात खास है कि इस प्रोजेक्ट को पूरा कराए जाने के लिए 20 करोड़ का टारगेट है. जिसके लिए स्मार्ट सिटी से फंडिंग होनी है.

तालकटोरा के विकास के लिए बनाई गई रूपरेखा के तहत सबसे पहले इन पैसों से बरसों से जमी लगभग 10 फीट से ज्यादा स्लज को निकाला जाएगा और पानी की आवक को दुरुस्त करते हुए साफ करने की व्यवस्था भी की जाएगी. साथ ही आबादी एरिया से घिरे तालकटोरा को अतिक्रमण, सीवरेज, गंदगी से बचाने के स्थाई हल निकालने होंगे. यह विकास जैसे ही पूर्ण हो जाएगा तो शहर के लोगों के लिए एक बड़ी सौगात होगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें