जयपुर: बेरोजगारों संग खड़ी हुई गहलोत सरकार नौकरियों में स्थानीय को प्राथमिकता

Smart News Team, Last updated: 04/09/2020 01:41 PM IST
  • जयपुर. स्थानीय युवाओं को ही सरकारी नौकरियों में प्राथमिकता देने की तैयारी में सरकार जुटी हुई है. जिससे कि युवाओं के लिए अधिक से अधिक अवसर उत्पन्न किए जा सके. राजस्थान में यह मुद्दा कई वर्षों से चल रहा है कि स्थानीय युवाओं को भर्तियों में प्राथमिकता दी जाए.
अशोक गहलोत

जयपुर| राजस्थान में बेरोजगार युवाओं के लिए एक बड़ी खबर आती हुई दिखाई दे रही है. जिसमें मध्य प्रदेश की तर्ज पर स्थानीय युवाओं को ही सरकारी नौकरियों में प्राथमिकता देने की तैयारी में सरकार जुटी हुई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कार्मिक, प्रशासनिक सुधार, विधि सहित अन्य विभाग के अधिकारियों को इस मामले का परीक्षण करने के निर्देश दिए. जिससे कि युवाओं के लिए अधिक से अधिक अवसर उत्पन्न किए जा सके.

सूत्रों से यह भी जानकारी मिल रही है कि सीएम ने यहां तक कहा है कि जब दूसरे राज्य अपने युवाओं को प्राथमिकता दे रहे हैं तो राजस्थान सरकार ऐसा क्यों नहीं करें. सीएम अशोक गहलोत बेरोजगारों के प्रति खासे चिंतित हैं. इसी को ध्यान में रखकर यह कदम उठाया जा रहा है. बताते चलें कि पिछले महीने मध्य प्रदेश सरकार ने फैसला लिया था कि सरकारी भर्तियों में केवल मध्य प्रदेश के युवाओं को ही तरजीह दी जाएगी. इसके बाद यह मामला गरमा गया. इसी के चलते राजस्थान में भी स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता दिए जाने को लेकर सरकार कदम उठाए जाने की ओर अग्रसर है.

खास बात यह है राजस्थान में यह मुद्दा कई वर्षों से चल रहा है कि स्थानीय युवाओं को भर्तियों में प्राथमिकता दी जाए. यदि राजस्थान सरकार इस प्रकार की भर्तियां शुरू कर देती है तो स्थानीय युवाओं को काफी राहत मिलेगी और वह अधिक से अधिक सरकारी सेवाओं में कार्य कर सकेंगे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें