Rajasthan Dengue: जयपुर, कोटा समेत 12 जिले डेंजर जोन में, अब तक डेंगू से 34 मौत

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 15th Nov 2021, 9:15 AM IST
  • राजस्थान में डेंगू से हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. अब तक डेंगू के रिकार्ड 13 हजार 759 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है. जबकि राजस्थान में डेंगू से 34 लोगों की जान जा चुकी है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर. राजस्थान में डेंगू का कहर जारी है. दरअसल, ऐसा पहली बार हुआ है जब डेंगू के 13 हजार 759 से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हुई है. साथ ही अब तक 34 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. यह आंकड़ा अपने आप में रिकार्ड है. इससे पहले साल 2017 में डेंगू के 13,706 मामलों की पुष्टि हुई थी, जो किसी भी साल में मिले डेंगू के मरीजों में सबसे ज्यादा थे. लेकिन इस बार हालात बेहतर से खराब है. दरअसल, इस बार राजस्थान के सभी 33 जिले भी डेंगू की जद में आ चुके हैं.

इस बीच राजधानी जयपुर, कोटा, जोधपुर समेत 12 जिले ऐसे हैं, जहां हालात बद से बदतर हैं. इन जिलों में अब तक 400 या उससे ज्यादा डेंगू के मामलों की पुष्टि हो चुकी है. ऐसे जिलों को डेंजर जोन घोषित कर दिया गया है. डेंजर जोन में राजधानी जयपुर टॉप पर है. जयपुर में अब तक 2562 से ज्यादा केस आ चुके हैं. जबकि जयपुर में डेंगू से अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है. जयपुर के बाद कोटा दूसरा ऐसा जिला है जहां सबसे ज्यादा 1300 मरीज मिले हैं. वहीं पूरे प्रदेश में अब तक डेंगू से 34 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

राजस्थान कांग्रेस के जन जागरण अभियान में बोले डोटासरा, मंहगाई इतनी की गरीबों का जीना मुश्किल

जानकार बताते हैं कि राजस्थान में सबसे ज्यादा केस के पीछे डेंगू का डेन-2 वैरिएंट जिम्मेदार है. दरअसल, डेंगू का डेन-2 वैरिएंट मरीज के लीवर और फेफड़े पर इफेक्ट करता है. इस वैरिएंट का असर सबसे पहले पेट पर होता है. मरीज को पेट दर्द के साथ बुखार की शिकायत होती है. विशेषज्ञ बताते हैं कि शुरुआती बुखार में प्लेटलेट्स कम नहीं होते और इस वैरिएंट का असर भी नहीं दिखता. जयपुर सीएमएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक, जयपुर में 3400 से ज्यादा डेंगू के केस अब तक मिल चुके हैं. शहरी और ग्रामीण दोनों इलाकों में स्थिति खराब है. ग्रामीण इलाकों में कोटपूतली, विराटनगर और सांगानेर में 100 से ज्यादा मरीज मिले हैं. वहीं शहरी सीमा में मानसरोवर, मालवीय नगर, प्रताप नगर, जगतपुरा और परकोटा, मुरलीपुरा, राजापार्क और झोटवाड़ा एरिया भी डेंगू का कहर झेल रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें