जयपुर: एयरपोर्ट पर नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी एक लाख

Smart News Team, Last updated: 03/09/2020 11:36 AM IST
  • जयपुर. लगातार बढ़ रही बेरोजगारी का फायदा उठाते हुए साइबर ठग सक्रिय हो गए हैं. विभिन्न वेबसाइटों से लोगों का डाटा चोरी करके फ्रेंचाइजी के नाम पर उनसे लाखों रुपए ठगे जाते हैं और लोग इसका खामियाजा उठाते हैं.
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर| राजस्थान बेरोजगारी की दर 17.5 फ़ीसदी हो गई है. यह आंकड़े सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनामी द्वारा जारी किए गए हैं. इन आंकड़ों में बेरोजगारी को निरंतर बढ़ा हुआ दिखाया जा रहा है. इसी का फायदा उठाकर साइबर ठग लोगों को लूट रहे हैं. नौकरी दिलाने वाली वेबसाइटों से उनका डाटा चोरी करते हुए फ्रेंचाइजी व नौकरी दिलाने के नाम पर उन्हें अपना शिकार बनाया जा रहा है.

मालवीय नगर क्षेत्र की रहने वाली रवीना सिंह ने बताया कि कुछ महीने पहले उन्होंने नौकरी के लिए एक वेबसाइट पर अपना बायोडाटा डाला था. 26 जुलाई को उनके पास एक कंपनी की ओर से मैसेज आया जिसमें लिखा हुआ था कि इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर एयर टिकटिंग के लिए पद रिक्त है. जिस पर उसकी नौकरी लग सकती है. इस पर उसने मान लिया और सिक्योरिटी के तौर पर 2500 रुपए जमा कर दिये. सिक्योरिटी जमा होने के उपरांत उसकी मेल पर एक लिंक आया जिस पर उसने टेस्ट दिया.

ठगों ने मेल आईडी पर ही रवीना की ट्रेनिंग शुरू कर दी. इसके उपरांत लेटर और यूनिफार्म लेटर भी भेज दिया. इस पूरे घटनाक्रम में ठगों ने उससे करीब एक लाख रुपये से अधिक ठग लिए. जब उसने नौकरी ज्वाइन करने के लिए इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर फोन किया तब उसे ठगों के शिकार हो जाने का पता चला.

साइबर एक्सपर्ट इस बारे में कहते हैं कि इस प्रकार की ठगी से लोगों को दूर रहना चाहिए क्योंकि यह ठग कई तरीके ढूंढ कर लोगों को चूना लगा रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें