जयपुर: ढाई करोड़ के जेवरात की लूट का पुलिस ने किया पर्दाफाश, 2 आरोपी गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 20/11/2020 03:15 PM IST
  • जयपुर के आईजी एस सेंगाथिर को बड़ी सफलता हासिल हुई है. दरअसल, उन्होंने नेशनल हाईवे पर ढाई करोड़ रुपये के जेवरात की लूट की वारदात का पर्दाफाश किया है. इस मामले को लेकर नीमराणा थाना पुलिस ने मुख्य सरगना पवन जाट समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है.
जयपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता

जयपुर: जयपुर में आए दिन अपराध के नए-नए मामले सामने आ रहे हैं. हाल ही में जयपुर के आईजी एस सेंगाथिर को बड़ी सफलता हासिल हुई है. दरअसल, उन्होंने नेशनल हाईवे पर ढाई करोड़ रुपये के जेवरात की लूट की वारदात का पर्दाफाश किया है. इस मामले को लेकर नीमराना थाना पुलिस ने मुख्य सरगना पवन जाट समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है. लूट की वारदात में गिरफ्तार किये गए अन्य दो आरोपियों के नाम मनोज कुमार सैनी और प्रमोद कुमार हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक तीनों ही आरोपी झुंझुनू के रहने वाले हैं. पुलिस ने मामले का पर्दाफाश करते हुए गिरोह के पास से करीब ढाई करोड़ रुपये के सोने के जेवरात बरामद किये. हैरान करने वाली बात तो यह है कि लूट को अंदाम देने वाले गिरोह का मुख्य पवन जाट सीआईएसएफ से बर्खास्त किया गया सब इंस्पेक्ट है और उसने वर्दी पहनकर ही इस वारदात को भी अंजाम दिया था. बताया जा रहा है कि इस लूट की साजिश हरियाणा के बदमाशों के साथ मिलकर की गई थी. वहीं, लूट में परिवादी प्रमोद कुमार की भी मिलीभगत थी.

जयपुर: पुलिस ने जाली नोट छापने वाले कारखाने पर मारा छापा, दो लोग गिरफ्तार

रिपोर्ट के मुताबिक जेवरात की यह लूट नीमराणा में नौ नवंबर को हुई थी. इसके अंतर्गत बदमाशों ने विनायक एयर पार्सल कोरियर कंपनी के करीब ढाई करोड़ रुपये के गोल्ड के पैकेट्स की लूट की थी. इस मामले को अंजाम देने के लिए बदमाशों ने लग्जरी कार का इस्तेमाल किया था. ऐसे में पुलिस ने लग्जरी कार को भी जब्त कर लिया है. वहीं, मामले में जहां तीन लोग अभी गिरफ्तार किये गए हैं तो वहीं गिरोह के तीन बदमाश कमलदीप, मोहित और दीपक अभी भी फरार चल रहे हैं.

जिला एसपी राममूर्ति जोशी के मुताबिक 9 नवंबर को विनायक एयर पार्सल कोरियर कंपनी में काम करने वाले प्रमोद कुमार सैनी के साथ लूट की वारदात हुई थी. प्रमोद कुमार सैनी दिल्ली के करोल बाग से ढाई करोड़ रुपए के बहुमूल्य गोल्ड के पार्सल के पैकेट लेकर जयपुर के लिए रवाना हुआ था. इन पैकेट्स की जयपुर में डिलीवरी देनी थी. इस दौरान परिवादी बस में बैठ गया, तभी पीछे से लग्जरी कार में आधा दर्जन से ज्यादा बदमाश आए और उन्होंने दिल्ली रोड पर बस को रुकवाया. बदमाशों ने परिवादी प्रमोद कुमार सैनी को बस से उतार कर और उसके साथ रखे हुए सोने चांदी के जेवरात लूट लिए और फरार हो गए. इस मामले की जानकारी जैसे ही कोरियर कंपनी के मालिक मनीष को हुई तो उन्होंने नीमराना थाना में लूट की वारदात का मामला दर्ज कराया. ऐसे में नीमराना पुलिस ने मामले की जांच करते हुए इसका पर्दाफाश किया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें