जयपुर: विधानसभा सत्र से पहले कांग्रेस और बीजेपी में दिन भर बैठकों का दौर

Smart News Team, Last updated: 13/08/2020 06:35 PM IST
  • राजस्थान विधानसभा सत्र की रणनीति बनाने को लेकर आज भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक प्रदेश मुख्यालय पर होगी. इस बैठक में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर, प्रदेश प्रभारी अविनाश खन्ना, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत भारतीय जनता पार्टी के तमाम विधायक मौजूद रहेंगे.
कांग्रेस-भाजपा बैठक

राजस्थान में कल से शुरू होने जा रहे विधानसभा सत्र को लेकर आज भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों में ही दिनभर बैठकों का दौर चलेगा. बैठकों में विपक्ष यह रणनीति बनाएगा कि आखिर सत्तापक्ष को किस तरह से और किन मुद्दों पर घेरा जाए. वहीं, सत्ता पक्ष यानी कांग्रेस पार्टी को इस बात का एहसास है कि इस बार विपक्ष आक्रामक मूड में होगा तो उनके सवालों का जवाब कैसे दिया जाए.

विपक्ष की ओर से कई सवाल भी सरकार से पूछे गए हैं. ऐसे में सवालों का जवाब विभागों की ओर से तैयार किया जा रहा है ताकि विपक्ष को हर सवाल का जवाब मिले. हालांकि विपक्ष यानी भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी दोनों मिलकर सरकार को हर मुद्दे पर विफल करार करने का प्रयास सत्र के शुरुआत से ही करेंगे.

 

आज होगी भाजपा विधायक दल की बैठक

विधानसभा सत्र की रणनीति बनाने को लेकर आज भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक सुबह 11 बजे प्रदेश मुख्यालय पर होगी. इस बैठक में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर, प्रदेश प्रभारी अविनाश खन्ना, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत भारतीय जनता पार्टी के तमाम विधायक मौजूद रहेंगे. इस बैठक में केंद्रीय नेतृत्व से सलाह ले कर विधानसभा में सदन की रणनीति बनाई जाएगी. दरअसल, इस बार भारतीय जनता पार्टी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है और हर मुद्दे पर सरकार को घेरना चाहती है. इस बैठक में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के विधायकों को भी आमंत्रित किया गया है. रालोपा के तीन विधायक भाजपा के साथ में है.

कांग्रेस में भी चलेगा मंथन का दौर

आज कांग्रेस पार्टी के विधायकों के साथ दिनभर होटल फेयरमाउंट में बैठकों का दौर जारी रहेगा. कांग्रेस पार्टी के संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल कल देर रात जयपुर पहुंचे और उसके बाद आज विधायकों के साथ विधानसभा सत्र की रणनीति को लेकर मंथन करेंगे. इस दौरान सीएम अशोक गहलोत सहित कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें