जयपुर: वैशाली निवासी युवती से विदेश में मेडिकल पढ़ाई के नाम पर ठगे दो लाख

Smart News Team, Last updated: 29/08/2020 01:14 PM IST
  • विदेश में मेडिकल की पढ़ाई कराए जाने के नाम पर एक युवती से ठगों ने दो लाख रुपये ठग लिए. जब उसने एडमिशन किए जाने की बात रखी तब से ठग ने उससे संपर्क स्थापित करना छोड़ दिया. ठगी का शिकार युवती ने साइबर एक्सपर्ट को मामले की जानकारी दी है.
साइबर क्राइम

जयपुर: वर्तमान समय में अभ्यर्थी सोशल मीडिया पर कैंपेन चला रहे हैं. इस कैंपेन में दी जाने वाली जानकारियों पर ठगों की पैनी नजर है. यह ठग थोड़ी सी जानकारी पाकर लोगों को अपना शिकार आसानी से बना लेते हैं और पढ़े लिखे लोग इन ठगों की घुमावदार बातों में फस कर उनका शिकार हो जाते हैं. 

वैशाली निवासी स्वाति शर्मा ने ट्विटर पर हैशटैग करते हुए बताया कि उनका मैसेज बॉक्स विदेशी यूनिवर्सिटी से सीधे प्रवेश वाले संदेशों से भर गया. स्वाति ने एक ऐसे ही मैसेज में दिए गए नंबर पर कॉल किया. जिसमें यह जानकारी मिली कि सिर्फ पांच लाख रुपये में वह कजाकिस्तान से मेडिकल की पढ़ाई वह कर सकती है. उस ऑफर को उसने स्वीकार कर लिया. इसकी जानकारी युवती ने घरवालों को दी.

 जालसाजी करने वालों ने स्वाति को बताया कि इसके ऑनलाइन क्लासेस लगते हैं. इसलिए वह रजिस्ट्रेशन के साथ फीस भी जमा करा दें. इस पर स्वाति के परिजनों ने पहली किस्त के रूप में दो लाख रुपये जमा करा दिए. जब ऑनलाइन क्लासेज व एडमिशन की बात हुई तो जिस नंबर पर संपर्क हुआ था वह नंबर बंद हो गया.

इस पर युवती ने जानकारी साइबर सेल को दी. इस बारे में एक्सपर्ट एडवाइजर का कहना है कि नाम, पता, मोबाइल नंबर जैसी जानकारी साइबर ठग खोज लेते हैं. जिससे वह अभ्यर्थी की अन्य जानकारियां हासिल कर लेते हैं. यह सभी जानकारियां करने के बाद वह उसे अपनी बातों में उलझा कर अपना मकसद पूरा करते हैं. उन्होंने ऐसे अभ्यर्थियों को सलाह दी कि वह सावधानी बरतें और इस प्रकार से किसी पर भी भरोसा न करें.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें