इलेक्ट्रिक इंजन के साथ दौड़ेगी जयपुर-दौलतपुर चौक एक्सप्रेस

Smart News Team, Last updated: Thu, 18th Feb 2021, 9:07 PM IST
  • जयपुर में अब कोरोना महामारी के बाद कुरुक्षेत्र-जींद रुट पर वाया कैथल होकर गुजरने वाली केवल एक ही ट्रेन संचालित की जा रही है.
इलेक्ट्रिक इंजन के साथ दौड़ेगी जयपुर-दौलतपुर चौक एक्सप्रेस (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जयपुर: कोरोना महामारी के कारण लगभग सभी ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया था. लेकिन अब महामारी के बाद कुरुक्षेत्र-जींद रुट पर वाया कैथल होकर गुजरने वाली केवल एक ही ट्रेन संचालित की जा रही है. ऐसे में कैथल से केवल यह ट्रेन कुरूक्षेत्र, चंड़ीगढ़, जींद और रोहतक जा रही है. इससे पहले ये ट्रेन डीजल इंजन से चलाई जाती थी, लेकिन अब एक मार्च से यह इलेक्ट्रिक इंजन के साथ दौड़ेगी. जिससे समय की बचत भी होगी.

बता दें, यह ट्रेन जयपुर से हिमाचल के अंबअंदौरा रेलवे स्टेशन तक इलेक्ट्रिक इंजन से और अंबअंदौरा से दौलतपुर चौक तक डीजल इंजन से चलेगी. डीजल इंजन से ट्रेन एक्सप्रेस होने के बावजूद धीमी गति से चलती थी, अब इलेक्ट्रिक इंजन लगने के बाद 50 मिनट से एक घंटे तक की बचत होगी.

जयपुर: शादी का झांसा देकर महिला के साथ किया दुष्कर्म, मामला दर्ज

गौरतलब है कि दो साल पहले ही कुरुक्षेत्र-नरवाना रेल मार्ग पर विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है. यहां पर इलेक्ट्रिक इंजन से रेलगाड़ी नहीं चल पाई थी. लेकिन, अब यहां पर इलेक्ट्रिक इंजन की ट्रेन आनी शुरू हो चुकी हैं. यहां के लोगों को अब मेमू ट्रेन चलने का इंतजार है.

जयपुर: कोरोना महामारी के कारण लगभग सभी ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया था. लेकिन अब महामारी के बाद कुरुक्षेत्र-जींद रुट पर वाया कैथल होकर गुजरने वाली केवल एक ही ट्रेन संचालित की जा रही है. ऐसे में कैथल से केवल यह ट्रेन कुरूक्षेत्र, चंड़ीगढ़, जींद और रोहतक जा रही है. इससे पहले ये ट्रेन डीजल इंजन से चलाई जाती थी, लेकिन अब एक मार्च से यह इलेक्ट्रिक इंजन के साथ दौड़ेगी. जिससे समय की बचत भी होगी.

बता दें, यह ट्रेन जयपुर से हिमाचल के अंबअंदौरा रेलवे स्टेशन तक इलेक्ट्रिक इंजन से और अंबअंदौरा से दौलतपुर चौक तक डीजल इंजन से चलेगी. डीजल इंजन से ट्रेन एक्सप्रेस होने के बावजूद धीमी गति से चलती थी, अब इलेक्ट्रिक इंजन लगने के बाद 50 मिनट से एक घंटे तक की बचत होगी.

जयपुर: शादी का झांसा देकर महिला के साथ किया दुष्कर्म, मामला दर्ज

गौरतलब है कि दो साल पहले ही कुरुक्षेत्र-नरवाना रेल मार्ग पर विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है. यहां पर इलेक्ट्रिक इंजन से रेलगाड़ी नहीं चल पाई थी. लेकिन, अब यहां पर इलेक्ट्रिक इंजन की ट्रेन आनी शुरू हो चुकी हैं. यहां के लोगों को अब मेमू ट्रेन चलने का इंतजार है.

|#+|

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें