जयपुर में सुबह 6 से 8 और शाम 5 से 7 बजे तक पतंगबाजी पर रोक, 31 जनवरी तक रहेगी पाबंदी

Haimendra Singh, Last updated: Fri, 24th Dec 2021, 12:19 PM IST
  • जयपुर के जिलाधिकारी अंतर सिंह नेहरा ने 31 जनवरी तक राजधानी में पतंगबाजी पर रोक लगा दी है. इसके अलावा चाइनीज मांझा के निर्माण और प्रयोग पर भी बैन लगाया गया है. 
जयपुर में पतंगबाजी पर 31 जनवरी तक लगी रोक.( सांकेतिक फोटो)

जयपुर. जयपुर में जिला प्रशासन ने 31 जनवरी तक पतंगबाजी पर रोक लगा दी गई है. पतंगबाजी पर लगा यह प्रतिबंध सुबह 6 बजे से सुबह 8 बजे तक और शाम 5 बजे से शाम 7 बजे रहेगा. इसके अलावा चाइनीज मांझे के निर्माण, बिक्री, उपयोग पर पाबंदी लगाने का फैसला किया गया है. जिलाधिकारी अंतर सिंह नेहरा कहा है कि यह पाबंदी 31 जनवरी 2022 की सुबह 7 बजे तक प्रभावी रहेगी. आदेश की अवहेलना करने वाले के खिलाफ धारा 188 के तहत 1 हजार का जुर्माना या छह महीने तक की जेल या दोनों दंड दिए जा सकते हैं.

जयपुर जिला प्रशासन ने प्लास्टिक या चीनी सिंथेटिक सामग्री से बने किसी भी प्रकार के धागे के उपयोग और पतंगबाजी के लिए लोहे के पाउडर या कांच के पाउडर जैसे जहरीले पदार्थों से बने किसी भी सामग्री के उपयोग पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. अधिकारियों का कहना है कि अकसर देखा जाता है कि चाईनिंग मांझे से अकसर कई लोग घायल हो जाते है तथा उन्हें गंभीर चोटों आती है. इस बात को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने जयपुर में पतंगबाजी पर रोक लगाने का फैसला किया है.

CM गहलोत का ऐलान, 50 हजार रुपए तक के ऋण दस्तावेजों पर मिलेगी स्टाम्प ड्यूटी से छूट

लोगों का कहना है कि सरकार की पाबंदी के बाबजूद चाईनिंग मांझा बाजारों में धड़ल्ले से बिकता है. देखा जाता है कि मकर संक्रांति पर लोग अकसर पतंगबाजी करते हुए नजर आते है. पतंग उड़ाने और चाईनिंज मांझे में उलझकर पक्षी घायल हो जाते हैं. जिला कलेक्टर ने धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा जारी की है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें