विधायक को अपने क्षेत्र में बनानी थी एक मॉडल CSC, 99 विधायकों ने चयन ही नहीं किया

Smart News Team, Last updated: Mon, 22nd Mar 2021, 12:13 PM IST
  • राजस्थान सरकार ने अक्टूबर 2020 में हर विधानसभ क्षेत्र में स्थित एक-एक सीएससी को मॉडल बनाने की घोषणा की थी. लेकिन अभी तक 99 विधायकों ने इसका चयन ही नहीं किया है.
राजस्थान विधानसभा (फाइल तस्वीर)

जयपुर: राज्य सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए जोर-शोर से तैयारी शुरू की थी. इसके लिए सरकार व मंत्रियों ने बढ़े-बढ़े दावे भी किए थे. एक बार फिर से कोरोना तेजी से फेल रहा है इसके वाबजूद सरकार के मंत्रियों व विधयकों ने ही इन दावों की हवा निकाल दी है. कोरोना काल के दौरान अक्टूबर 2020 में सरकार ने हर विधानसभ क्षेत्र में स्थित एक-एक सीएससी को मॉडल बनाने की घोषणा की थी.

इस पहल के तहत प्रत्येक विधायक को अपने क्षेत्र में एक सीएससी का चयन करना था. इसके बाद उस सीएससी को विकसित करके मॉडल बनाना था. इन सीएससी को मॉडल बनाना दूर अब तक सरकार के सभी मंत्रियों सहित 99 विधायकों ने इसका चयन ही नहीं किया है. चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने सभी विधायकों को पत्र लिखकर सीएससी चयन के लिए आग्रह किया है इसके वाबजूद अधिकतर विधायक आगे नहीं आए है.

कोरोना के बीच राजस्थान विश्वविद्यालय का फैसला अब तीन की जगह दो घंटे का होगा पेपर

मॉडल सीएससी ऐसे करेगी काम

विधायकों के मॉडल सीएससी के चयन करने के बाद इनमे सरकार की द्वारा 24 घंटे चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करवाई जाएगी. इसके लिए निर्धारित स्टाफ की व्यवस्था सरकार करेगी. अच्छी सेवाओं के लिए चिकित्सा एवं पैरामेडिकल स्टाफ को प्रशिक्षित किया जाएगा.

632 प्रकार की दवाएं व सभी जांचे होंगी निःशुल्क

प्रत्येक विधानसभा में बनने वाली एक-एक मॉडल सीएससी में मरीजों के लिए 632 प्रकार की दवाएं निःशुल्क मिलेगी. साथ ही इन मॉडल सीएससी में सभी जांचे भी निःशुल्क की जाएगी. इन सभी सीएससी में सफाई की उचित व्यवस्था के साथ जिला एवं राज्य स्तरीय अस्पतालों की नियमित मॉनिटरिंग रहेगी.

परिवार की गैर-मौजूदगी में चोरों ने किया गहने-नकदी पर हाथ साफ

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें