किसान आंदोलन : जयपुर-दिल्ली हाईवे पर ट्रकों की आवाजाही ठप, व्यापार पर बुरा असर

Smart News Team, Last updated: 16/12/2020 03:05 PM IST
  • जयपुर-दिल्ली हाईवे पर ट्रकों का आवागमन बंद होने से न सिर्फ सामान के दाम बढ़ गए हैं, बल्कि व्यापार पर भी बुरा असर पड़ा है. जयपुर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल आनंद के अनुसार जयपुर-दिल्ली हाईवे से रोज करीब साढ़े आठ हजार ट्रक गुजरते थे.  
जयपुर-दिल्ली हाईवे पर बैठे किसान

जयपुर. केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में जगह-जगह विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. अब किसानों ने जयपुर-दिल्ली हाईवे जाम किया है. हाईवे बंद होने के कारण प्रदेश में माल की सप्लाई भी थम चुकी है. जयपुर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल आनंद के अनुसार जयपुर-दिल्ली हाईवे से रोज करीब साढ़े आठ हजार ट्रक गुजरते थे. वहीं, जयपुर से करीब 1500 ट्रकों से सामान की सप्लाई दिल्ली भेजी जाती है. जयपुर में करीब 12 सौ ट्रकों का आवागमन बंद हो चुका है.

 जबकि ट्रक ऑपरेटर चेंबर के अध्यक्ष गोपाल सिंह राठौड़ के अनुसार राजधानी जयपुर से प्रदेश भर में माल की सप्लाई होती है. जयपुर में दिल्ली से सामान नहीं आने के कारण प्रदेश में सप्लाई नहीं हो पा रही है. जयपुर से अजमेर, भीलवाड़ा, सीकर, चूरू, उदयपुर, दौसा, कोटा सहित आसपास के जिलों में सामान की सप्लाई की जाती है. बता दें कि हाइवे बंद होने के कारण जयपुर में रोज करीब 400 करोड़ रुपए का व्यापार प्रभावित हो रहा है। साथ ही ट्रांसपोर्टर्स के करीब डेढ़ सौ करोड़ रुपए के कारोबार पर असर पड़ा है. सामानों की सप्लाई बंद होने का असर सामानों को दाम पर पड़ रहा है. 

राजस्थान में वासवा की बीटीपी और ओवैसी की एआईएमआईएम के बीच गठबंधन की चर्चा

जयपुर व्यापार महासंघ के अध्यक्ष सुभाष गोयल का कहना है कि ग्राहकी कम होने और सावे खत्म हो जाने के कारण फिलहाल सामान की किल्लत नहीं है. लेकिन व्यापारियों का स्टॉक खत्म होने पर किल्लत आ सकती है. यही कारण है कि कीमतों भी 10 फीसदी तक की बढ़ोतरी हो चुकी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें