प्यार, लव मैरिज, विरोध, परिवार: कुमार विश्वास और मंजू शर्मा की फिल्मी लव स्टोरी

Smart News Team, Last updated: 14/10/2020 11:43 PM IST
  • कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार ने कवि कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा को राजस्थान लोक सेवा आयोग का सदस्य नियुक्त किया है. पढ़िए कविराज और उनकी पत्नी मंजू शर्मा की फिल्मी लव स्टोरी.
 कुमार विश्वास और मंजू शर्मा की फिल्मी लव स्टोरी

जयपुर. राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने मशहूर कवि कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा को राजस्थान लोक सेवा आयोग की मेंबर नियुक्त कर सबको चौंका दिया है. आरपीएससी की मेंबर बनी मंजू शर्मा और कुमार विश्वास की शादी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है. एक फिल्म की तरह पहले दोनों को प्यार हुआ, फिर लव मैरिज की और परिवार का विरोध झेला और काफी समय बाद परिवार ने दोनों को अपनाया.

दरअसल कुमार विश्वास और मंजू शर्मा की कहानी साल 1994 में राजस्थान से शुरू होती है. यहां कुमार विश्वास ने इंजीनियरिंग छोड़कर बतौर हिंदी लेक्चरर नौकरी शुरू की थी. इसी दौरान उनकी मुलाकात अजमेर की मंजू शर्मा से हुई, वे भी उसी कॉलेज में लेक्चरर थीं. इस दौरान ही दोनों एक दूसरे के प्यार में गिरफ्त हो गए. लेकिन आगे की राह दोनों के लिए आसान नहीं थी क्योंकि दोनों की जातियां अलग थी और ऐसे में शादी के लिए परिवार को मनाना मुश्किल था.

राजस्थान: कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा RPSC मेंबर, DGP भूपेंद्र चेयरमैन बने

कुमार विश्वास और मंजू शर्मा को मालूम था कि अगर घरवालों को मनाने की कोशिश की तो मुश्किल हो जाएगी इसलिए उन्होंने पहले शादी की और फिर अपने परिवार को इस बारे में सूचना दी. दोनों परिवार ने शादी का जमकर विरोध किया. 

करीब दो साल तक परिवारों ने कोई संबंध नहीं रखा लेकिन धीरे-धीरे समय गुजरने के बाद दोनों परिवारों ने अपने बच्चों को अपना लिया. आज भी कुमार विश्वास और मंजू शर्मा के बीच वही प्यार जूं का तूं है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें