CM गहलोत ने दी 275 करोड़ की योजनाओं की सौगात, कहा- वादे पूरा करने में रखी नहीं कमी

Shubham Bajpai, Last updated: Fri, 21st Jan 2022, 11:03 AM IST
राजस्थान के बाड़मेर जिले में सीएम अशोक गहलोत ने 275 करोड़ रुपये की योजनाओं की सौगात दी. इस दौरान सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि उन्होंने विकास कार्यों से जुड़ी विधायकों की मांगे पूरी करने में राज्य सरकार ने पिछले 3 साल में कोई कमी नहीं रखी है. सरकार बदलने पर विकास कार्य बंद नहीं होने चाहिए.
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

जयपुर (भाषा). राजस्थान के बाड़मेर जिले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 275 करोड़ रुपये के विकास कार्यों के शिलान्यास एवं लोकार्पण किया. इस दौरान उन्होंने सरकार के कार्यों की प्रशंसा करने के साथ जनता से किए वादे पूरे करने की बात कही. सीएम ने कहा कि रिफाइनरी के काम में केंद्र सरकार उनके सहयोग की अपील करें. साथ ही जनता से किए वादे और विकास कार्यों से जुड़ी विधायकों की मांगें पूरी करने में राज्य सरकार ने पिछले तीन साल में कोई कमी नहीं रखी है.

गहलोत गुरुवार को बाड़मेर जिले में करीब 275 करोड़ रूपए के विकास कार्यो के शिलान्यास एवं लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि सरकारें बदलने पर विकास कार्य बंद नहीं होने चाहिए. हमारी सरकार ने कभी भी पूर्ववर्ती सरकार के विकास कार्यों को नहीं रोका.

पूर्व डिप्टी CM सचिन पायलट का बड़ा दावा, उत्तराखंड और पंजाब में बनेगी कांग्रेस सरकार

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार, राज्य के विकास के लिए कंधे से कंधा मिलाकर केन्द्र सरकार का सहयोग करेगी.

उन्होंने बाड़मेर में रिफाइनरी के काम में केन्द्र सरकार से अपेक्षित सहयोग की अपील की. डेजर्ट पार्क के मुद्दे एवं गोडावण संरक्षण क्षेत्र में सोलर पॉवर प्लांट लगने में आ रही कठिनाइयों के संबंध में केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री को राज्य का पक्ष मजबूती से रखने का आग्रह किया.

गहलोत ने बाड़मेर में बाजरा अनुसंधान केन्द्र खोलने की स्वीकृति देने के लिए केन्द्र का आभार जताया. उन्होंने जैविक कृषि को बढ़ावा देने के साथ ही प्रदेश के किसानों के हित में सभी जरूरी कदम उठाने का भरोसा दिलाया. साथ ही, न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बाजरे की खरीद की संभावनाओं का अध्ययन कराने की बात कही.

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2006 में बाड़मेर में आई भीषण बाढ़ के दौरान बेघर हुए विस्थापितों का 15 साल का इंतजार खत्म करते हुए राज्य सरकार ने 1022 परिवारों को निःशुल्क पट्टे दिये हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले किसी ने कल्पना नहीं की थी कि थार के रेगिस्तान में तेल निकलेगा, रिफाइनरी आएगी और पॉवर संयंत्र लगेंगे. आज बाड़मेर का काया-कल्प हो गया है. इंदिरा गांधी नहर और नर्मदा का पानी यहां पहुंच गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें