गहलोत सरकार का फैसला- इस योजना से निजी अस्पतालों में कोरोना का होगा फ्री इलाज

Smart News Team, Last updated: Sun, 9th May 2021, 1:24 PM IST
  • राजस्थान सरकार ने कोरोना के बिगड़े हालातों को संभालने के लिए प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना का इलाज फ्री कर दिया है. कोविड मरीज अब गहलोत सरकार की चिरंजीवी योजना के अंतर्गत निजी हॉस्पिटल में इलाज मुफ्त में करवा सकेंगे.
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत.

जयपुर. देशभर में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे है. महामारी के इस दौर में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य के लोगों के लिए अच्छी खबर लेकर आए हैं. गहलोत सरकार ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना (Chiranjeevi Yojana) के तहत राज्य के सभी निजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों का फ्री में इलाज करने का फैसला किया है. इस योजना का लाभ जिला कलेक्टर द्वारा जुड़े गए सभी पात्र परिवारों को मिलेगा.

राजस्थान स्टेट हेल्थ एश्योरेंस एजेंसी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुणा राजोरिया ने सभी जिला कलेक्टर ने दिए निर्देश कहा, कि जिला प्रशासन सुनिश्चित करें कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के जुड़े कोरोना संक्रमित मरीजो का सभी निजी अस्पतालों में मुफ्त में इलाज किया जा रहा है. सरकार ने आदेश दिया है कि योजना से जुड़े हुए लोगों के इलाज में आनाकानी करने वाले अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

UP में एक बार फिर बढ़ा कोरोना कर्फ्यू, अब 17 मई तक रहेगा लॉकडाउन

राजस्थान सरकार की अनुमति के बाद कोरोना के उपचार के लिए अधिकृत अस्पतालों में चिरंजीवी योजना से जुड़ें पात्र परिवारों के कोरोना के इलाज के लिए सरकार ने नए पैकेज की मंजूरी दी है. सरकार ने सख्त निर्देश दिए है कि आदेशो का पालन न करने वाले अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

बिहार स्वास्थ्य विभाग ने CT स्कैन का रेट किया तय, अधिक वसूलने पर होगा सख्त एक्शन

"चिरंजीवी योजना" क्या है

राजस्थान सरकार ने 1 मई 2021 से चिरंजीवी योजना की शुरुआत की है. सरकार ने इस योजना में अब तक 22 लाख से भी ज़्यादा परिवार जुड़ दिया हैं. 3,500 करोड़ की यह योजना राज्य के प्रत्येक परिवार को 5 लाख का वार्षिक कैशलेस बीमा कवर देती है. योजना से जुड़ने के लिए सरकार ने 31 मई 2021 तक का समय तय किया है. गहलोत सरकार के इस कदम को ऐतिहासिक माना जा रहा है. लोगो का मानना है कि सरकार इस कदम से अमीर और गरीब के बीच की खाई को पाटने का काम करेगी. 

खुशखबरी: सरकारी अस्पतालों में भर्ती कोरोना मरीज से बात कर सकेंगे परिजन, शुरू होगा संवाद हेल्पडेस्क

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें