राजस्थान रोडवेज: मृतक कर्मचारियों के आश्रितों को नौकरी, गहलोत सरकार ने दी मंजूरी

Smart News Team, Last updated: Wed, 31st Mar 2021, 7:19 PM IST
  • राजस्थान रोडवेज लगभग 530 मृत कर्मचारियों के आश्रितों को नौकरी देने जा रहा है. सरकार ने इस प्रस्ताव को मंजूरी भी दे दी है. इसके लिए सरकार ने रोडवेज के सीएमडी को अधिकृत किया है. पात्रता की जांच कमेटी करेगी.
मृतकों के आश्रितों को नौकरी देने के प्रस्ताव को राज्य सरकार ने मंजूरी दी. प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर. राजस्थान रोडवेज अपने सेवाकाल के दौरान मृत कर्मचारियों के आश्रितों को नौकरी देने जा रही है. राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने रोडवेज के इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. अब एक कमेटी पात्रता की जांच करेगी. जिसके बाद उनकी नियुक्ति होगी. मिली जानकारी के अनुसार, राजस्थान रोडवेज लगभग 530 मृतक कर्मचारियों के आश्रितों को नौकरी देगा. इन्हें अब तक अनुकंपा नियुक्ति नहीं मिल पाई थी.

इस बारे में राजस्थान रोडवेज के राजेश्वर सिंह ने कहा कि अनुकंपा नियुक्ति के मामलों में पात्रता की जांच एक कमेटी करेगी. इसके साथ ही कमेटी की देखरेख उप महाप्रबंधक प्रशासन ममता यादव करेंगी. उन्होंने कहा कि ये कमेटी लंबित करीब 492 मामले और डिपो स्तर के 38 प्रकरणों में दस्तावेजों की जांच की करेगी. साथ ही जो भी उम्मीदवार पात्र पाए जाएंगे, उन्हें नियुक्ति पत्र दे दिए जाएंगे.

राजस्थान नई कोरोना गाइडलाइन: अब 10 बजे से नाइट कर्फ्यू, 9 बजे बाजार होंगे बंद

आपको बता दें कि राजस्थान रोडवेज के बोर्ड ने बीते 29 जनवरी को ऐसे मामलों में कर्मचारी की मौत के 5 साल बाद आवेदन मांगे गए थे. जिनमें एक साथ शिथलन के लिए प्रस्ताव पास करके राजस्थान सरकार के पास भेजा था. गहलोत सरकार ने इस प्रस्ताव को मंजूर करते हुए ऐसे मामलो के लिए रोडवेज सीएमडी को अधिकृत किया गया है.

आरबीएसई राजस्थान बोर्ड ने जारी की 9वीं और 11वीं परीक्षा की डेटशीट, जानें फुल डिटेल्स

रोडवेज के नियम के अनुसार, कर्मचारियों की मौत के 5 साल के भीतर ही अनुकंपा नियुक्ति आवेदन करना होता है. इस बाद आने वाले आवेदनों को स्वतः ही खारिज मान लिया जाता था. ऐसे में जो आवेदनकर्ता 5 साल के भीतर नियुक्ति के लिए आवेदन नहीं करते थे, उन्हें नौकरी नहीं मिल पाती थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें